भोपाल के कांग्रेस कार्यालय में प्रतिदिन 25 हजार लोगों का खाना, संपर्क करें

Scn news india

मनोहर

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यालय में हर रोज करीब 25000 लोगों के लिए खाना बनाया जा रहा है। यदि किसी जरूरतमंद तक सरकारी संसाधनों से खाना नहीं पहुंच रहा है तो कांग्रेस कार्यालय इंदिरा भवन में संपर्क कर सकते हैं। टेलीफोन नंबर 0755 2555452, 2551512 पर भी संपर्क किया जा सकता है। कांग्रेस के कार्यकर्ता भोपाल में जहां जरूरत होगी वह खाने के पैकेट पहुंचाएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के कहने पर कोषाध्यक्ष गोविंद गोयल ने कमान संभाली

भीषणतम कोरोना बीमारी के चलते प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री कमलनाथ जी की भावना के अनुसार भोपाल और भोपाल के आस-पास जरूरतमंद व्यक्तियों, गरीब वस्तियों के परिवारों को भोजन पहुंचाने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश कांगे्रस कमेटी के कोषाध्यक्ष श्री गोविंद गोयल द्वारा प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में रात-दिन खाना तैयार कराया जा रहा है। खाने के पैकेट तैयार कराकर भोपाल एवं आस पास के क्षेत्रों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा जरूरत मंद, गरीब परिवारों, आमजनों तक खाना पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है।

दिग्विजय सिंह एवं उनके समर्थक खाना बांट रहे हैं

वहीं इस कार्य में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह जी एवं उनके कार्यकर्ता भी पूरी मुस्तैदी से जरूरतमंदों को भोजन पहुंचाने में अपने वाहनों सहित अपना पूरा सहयोग प्रदान कर रहे हैं। खाने के पैकेट प्राप्त करने के लिए या किसी भी प्रकार की मदद के लिए श्री दिग्विजय सिंह के कार्यालय में संपर्क किया जा सकता है

+917552441788 +917552441790

भूपेश गुप्ता +918839505028

ओपी शर्मा +919826047546

उपेन्द्र जोशी +917509310834

प्रह्लाद शर्मा +919425012595

भोपाल में एक भी गरीब भूखा नहीं रहना चाहिए:कमलनाथ

श्री कमलनाथ का कहना है कि कोई भी जरूरतमंद, गरीब परिवार का एक भी सदस्य भूखा न रहे इस हेतु बीते 28 मार्च को 8 से 10 हजार, 29 मार्च को 18 से 20 हजार तथा 30 मार्च को 25 से 27 हजार खाने के पैकेट, जिसमें पूड़ी, सब्जी, खिचड़ी और नमकीन आदि शामिल है, प्रदेश कांग्रेस द्वारा भोपाल एवं आसपास के क्षेत्र के जरूरत मंद लोगों, गरीब तबके के लोगों तक कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा पहुंचाकर वितरित कराये गये। श्री गोयल ने बताया कि खाने के पेकेट वितरित किये जाने का कार्य आगे भी निरंतर जारी रहेगा।