डरे नहीं , ध्यान दें -कोरोना वायरस संक्रमण हेतु महत्वपूर्ण जानकारी

Scn news india


बैतूल,
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.सी. चौरसिया ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु सावधानियां बरतने की सलाह दी हैं जो इस प्रकार हैं-

कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकें
————————
लक्षण- खांसी, बुखार ,सांस लेने में तकलीफ संक्रमण से बचने के लिए जिस व्यक्ति में खांसी,  जुकाम या बुखार के लक्षण हों, उससे दूरी बनाएं खांसते और छींकते समय नाक और मुंह ढकें, या कोहनी का उपयोग करें, ढकने में प्रयोग किए गए टिशु को किसी बंद डिब्बे में फेंक दें, नियमित रूप से साबुन और पानी से हाथ धोएं, भीड ़भाड़ वाली जगहों में ना जाएं, अनावश्यक किसी से भी हाथ न मिलाएं, अनावश्यक कोई भी यात्रा ना करें।
मास्क किसे पहनना है
————————-
संक्रमण से पीडि़त व्यक्ति को,  बीमार व्यक्ति की देखभाल करने वाले को, अस्पताल के अंदर जाने वाले को एवं संक्रमित व्यक्ति के परिवार वालों को मास्क पहनना है। ध्यान रहे एक स्वस्थ और सामान्य व्यक्ति को मास्क पहनने की जरूरत नहीं है। यदि आपको सर्दी जुकाम है तो घर से बाहर ना निकले,  स्वास्थ्य विभाग के कॉल सेंटर नंबर पर कॉल करें,  चिकित्सकीय परामर्श और आवश्यक होने पर दवाइयां निशुल्क आपके घर पहुंचाई जाएंगी।

कोविड-19 कोरोना वायरस से घबराए नहीं जानकारी ही हमारा सुरक्षा कवच है
————————-
संक्रमण को फैलने से रोकने हेतु घर में ही रहें ।  एक बिना लक्षण वाला संक्रमित व्यक्ति दूसरों को संक्रमित कर सकता है  इसलिए पड़ोसी , दोस्त इत्यादि से आपसी संपर्क कम करना आवश्यक है। कुछ संक्रमित व्यक्ति लक्षण दिखाए बिना ही पूर्णत: स्वस्थ हो जाते हैं । यदि आप हाल में विदेश यात्रा करके आए हैं तो 14 दिनों के लिए घर से बाहर ना निकलें। 14 दिनों के लिए होम आइसोलेशन मे रहें । यथासंभव अकेले रहें, परिवार के अन्य सदस्यों से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें , बुजुर्गों गर्भवती महिलाओं बच्चों और कम प्रतिरोधी क्षमता वाले व्यक्तियों से दूर रहें, घर के अंदर कम से कम विचरण करें, घर के बाहर कतई ना जाएं, हाथों को बार बार साबुन व साफ पानी से 20 सेकंड तक धोएं,  प्रयोग की गई सभी वस्तुओं को साफ रखें,  कप गिलास खाने के बर्तन टॉवल अन्य सदस्यों के साथ साझा ना करें , मास्क पहने रहें , जिसे 6 से 8 घंटे के अंतराल से बदलते रहें,  यदि लक्षण दिखाई देते हैं जैसे खांसी,  बुखार , सांस लेने में कठिनाई तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें।

केवल निम्न व्यक्तियों को जांच की आवश्यकता है-
————————-
ऐसे लक्षण वाले व्यक्ति जिन्होंने प्रभावित देशों में यात्रा की हो, पॉजिटिव व्यक्ति के साथ रहने वाले परिवार के सदस्य , पॉजिटिव मरीज को संभालने वाले सभी स्वास्थ्य कर्मी, स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूर्व यात्रा या लक्षण की जानकारी के आधार पर पहचाने गए संवेदनशील व्यक्ति कुछ संक्रमित व्यक्ति हल्के लक्षण दिखाकर पूर्णत: स्वस्थ हो जाते हैं किंतु संवेदनशील वर्ग वाले व्यक्तियों को दूसरों की तुलना में कोरोनावायरस के संक्रमण से खतरा ज्यादा होता है । ध्यान दें वृद्धजन जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक हो ,जो डायबिटीज ,अस्थमा एवं हृदय रोग के मरीजों तथा कम रोग प्रतिरोधी क्षमता वाले व्यक्तियों को संक्रमित होने से बचाना है। प्रत्येक परिवार अपने बुजुर्गों तथा संवेदनशील व्यक्तियों का विशेष ध्यान रखें, जितना संभव हो संवेदनशील व्यक्ति से दूरी बनाए रखें ,संभव हो तो परिवार का एक ही व्यक्ति उनसे संपर्क रखे,  घर के बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति का अंदर आने से पहले साफ होना जरूरी है, हांथो  एवं वस्त्रों को यथासंभव साफ  रखें।