किसी के काम जो आये उसे इंसान कहते है,पराया दर्द अपनाए उसे इंसान कहते है।

Scn news india

दिलीप पाल ब्यूरों आमला 

आमला-ये पंक्तियां कोरोना के कहर और लॉकडाउन की मुसीबतों के बीच आमला में खूब चरितार्थ हो रही है। क्या व्यापारी-क्या विद्यार्थी, क्या समाजसेवी-क्या युवावर्ग, सभी शहरवासी अपने-अपने स्तर पर जरूरतमन्दों की मदद के प्रयास कर रहे है। इसी कड़ी में थाना जीआरपी आमला भी गरीबो की मदद के लिए आगे आया है, जीआरपी थाना में उपनिरीक्षक श्री एच आर कुमरे द्वारा थाने में पदस्थ समस्त अधिकारियो व कर्मचारियों से स्वेच्छा अनुदान स्वरूप 11500रुपये की नगद राशि एकत्रित कर गरीबो और बेसहारा लोगो की भोजन व्यवस्था हेतू समाजसेवी संस्था जनसेवा कल्याण समिति को प्रदान की गई। ज्ञात हो कि जनसेवा कल्याण समिति शहर में विभिन्न समस्याओ के खिलाफ आवाज उठाने और रोगियों व घायलों की मदद करने में हमेशा अग्रणी रही है,और समिति द्वारा लॉकडाउन के पहले दिन से ही गरीबो की मदद व भोजन व्यवस्था की जा रही है।
प्रायः पुलिसकर्मियों को जहां कड़कमिजाजी और रूखे स्वभाव के लिए जाना जाता है वहीं इस त्रासदी के समय जीआरपी पुलिस की इस नेकदिली ने सभी पूर्वाग्रहों को धता बताते हुए सभी के लिए एक मिसाल पेश की है,निश्चित तौर पर उनके इन प्रयासों से काफी लोगो के भोजन सामग्री की व्यवस्था हो सकेगी।