कोरोना का कहर: चेत्र नवरात्रि का प्रथम दिन भक्तों बिन सूना मां बिजासन दरबार

Scn news india

मनीष मालवीय ब्यूरों 

होशंगाबाद बुधनी // जिले मुख्यालय होशंगाबाद से 38 कि.मी.दूर सीहोर जिले के सलकनपुर ग्राम मैं 1000 फीट ऊंची पहाड़ी पर स्थित माता बिजासन धाम यह मां दुर्गा का अवतार हैं माता बिजासन। चैत्र नवरात्रि में जहां हर दिन माता के दर्शन के लिए लाखों की संख्या में श्रृद्धालुओं की भीड़ लगी रहती थी । लेकिन पहली बार ऐसा हुआ की जब माता का यह दरबार चैत्र नवरात्रि अपने भक्तों के बिना सूना दिखाई दिया। जी हां…कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी के चलते 31अप्रैल तक मंदिर समिति ने आने वाले भगतो पर रौक लगा दी गई है।

अपने घरों में ही रहकर करें मां की आराधना

जिला प्रशासन का कहना है कि सलकनपुर मंदिर में बड़ी संख्या में लोग आते जहां कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका है। नोबल कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी एवं स्थानीय लोगों का मंदिर व्यवस्था से जुड़े लोगों की सुरक्षा व स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुए श्रद्धालुओं एवं दर्शनार्थियों को कहा गया है कि 31 अप्रैल तक मां बिजासन धाम को भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है व मंदिर समिति ने सभी भक्तों से अनुरोध किया है कि देवी की अराधना अपने घरो मे ही करें। इसमें अपनी और अपने देश की भलाई है।