धारा 144 के आदेश का पालन सुनिश्चित करायें- कलेक्टर तरूण राठी

Scn news india

  • सोशल मीडिया में अफवाहें ना फैले यह भी देखें, यदि अफवाहें पायी जाती है तो
  • कार्रवाही करें- पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान
  • बीमारी-लक्षण छिपाने वाले के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवायी जायें
  • दिये निर्देश बाहर से आये हर व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण करायें
  • कोरोना वायरस रोकथाम के संबंध में महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न
  • दिये गये अहम दिशा निर्देश

 

स्वामी सींग गौड दमोह

कलेक्टर तरूण राठी ने आज कोरोना वायरस के संबंध में आयोजित एक महत्वपूर्ण बैठक में सभी एसडीएम और तहसीलदार से कहा है कि धारा 144 के आदेश का पालन सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा 31 मार्च तक सभी बसें बंद कर दी गई है, वार्डर सील है, वार्डर पर एसडीएम टीम तैनात करें, चुनाव की तरह कार्य अंजाम दिया जायें। उन्होंने कहा 31 मार्च तक मिनिमम मूमेंट तय करें। जिले में लॉकडाउन किया गया है, ‍जिले में शासकीय कार्यालय बंद है, निजी संस्थान भी बंद कराये जायें। जो व्यक्ति असहयोग करता है, उसके विरूद्ध वैधानिक कार्रवाही की जायें।

कलेक्टर तरूण राठी ने कहा यह व्यक्ति का दायित्व है कि बीमारी छिपायें नहीं शासकीय स्वास्थ्य केन्द्र पर पहुंचे, छुपाता है तो उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवायी जायें। उन्होंने कहा बाहर से आने वाले सभी मजदूरों-ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। बीएमओ और सीईओ जनपद पंचायत सुनिश्चित कराये, सभी का स्वास्थ्य परीक्षण हो जायें। उन्होंने कहा करीब 2600 लोग बाहर से आये 90 प्रतिशत व्यक्तियों में बुखार सर्दी जैसे लक्षण नहीं पाये गये है। बाकी का भी परीक्षण अंतिम चरण में है। कलेक्टर ने नगरीय क्षेत्रों में भी स्वास्थ्य परीक्षण दल गठित कर आज ही कराने के निर्देश दिये है। यह कार्य दमोह सहित सभी नगरीय निकायो में किया जायेगा। स्क्रिनिंग के दौरान लक्षण पाये जाने पर चिकित्सकों द्वारा उनका पूर्ण परीक्षण किया जायेगा ।

कलेक्टर ने कहा है कि सभी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी अपने मुख्यालयों पर रहे। जो अधिकारी-कर्मचारी मुख्यालय पर नहीं पाया जायेगा उसके विरूद्ध सख्त कार्रवाही की जायेगी।

आधुनिक थर्मामीटर से होगी जांच

बैठक में कलेक्टर तरूण राठी ने आधुनिक थर्मामीटर स्वास्थ्य विभाग को मुहैया कराते हुए कहा कि इनसे स्केनिंग की जायें, यह ज्यादा सुरक्षित भी होगा। इन्हें शाम तक सभी सीएचसी में पहुंचने के निर्देश दिये।

हर तहसील में कोरोन्टाईन सेन्टर बनायें जायें

कलेक्टर तरूण राठी ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से कहा कि हर तहसील में कोरोटांईन सेन्टर स्थापित किये जायें, इस हेतु जगह चिन्हित कर ली जायें। आज शाम तक यह कारर्वाही तय कर ली जायें, इसमें प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जायें। साथ ही उन्होंने तीन माह का राशन वितरण कराने के निर्देश भी दिये।

कलेक्टर ने कहा आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत अधिक कीमत पर वस्तुएं विक्रय की जानकारी मिलने पर संबंधित के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराई जायें।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने अधिकारियों से कहा कि 144 का आदेश का पालन हो सभी अधिकारी सुनिश्चित करायेंगे। उन्होंने कहा यात्री वाहन, बसें प्रवेश ना करें यदि जबरन प्रवेश करता है तो उनके विरूद्ध कार्रवाही करे। उन्होंने कहा बाहर से आये मजदूरों को स्वास्थ्य परीक्षण हो जाये। श्री चौहान ने कहा लोगों को बताये आवागमन इमरजेंसी में ही करना है। यह भी कहा कि पुलिस विभाग के अधिकारी से लेकर कॉन्सीटेबिल तक धारा 144 को पढ़ लें। पुलिस अधीक्षक ने कहा पुलिस-प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अमला समन्वय से कार्य करें। कोई सूचना आये तो स्वास्थ्य विभाग को भी सूचित कर दें। पुलिस की लापरवाही सामने नहीं आनी चाहिए।

पुलिस अधीक्षक श्री चौहान ने कहा सोशल मीडिया में अफवाहें ना फैले यह भी देखें, यदि अफवाहें पायी जाती है तो कार्रवाही करें। हमें दृढ़ संकल्पित होकर काम करना है। पम्पलेट-पोस्टर दिये गये है का वितरण कराया जायें, साथ ही यह भी कहा कि धारा 144 का उल्लंघन पर 188 के तहत कार्रवाही की जायें और इसकी रिपोर्ट प्रतिदिन कंन्ट्रोल रूम को भेजें। बैठक में सीईओ जिला पंचायत डॉ गिरीश मिश्रा, एडीशनल कलेक्टर आनंद कोपरिहा, एडीशनल एसपी विवेक लाल, एसडीएम रवीन्द्र चौकसे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तुलसा ठाकुर, सिविल सर्जन डॉ ममता तिमोरी, जिला शिक्षा अधिकारी, नगरपालिका अधिकारी सहित अन्य सभी संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।