बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान, किसानों की बढ़ी चिंता

Scn news india

दिलीप पाल ब्यूरो आमला
आमला ब्लाक में बुधवार को मौसम का मिजाज ज्यादा बिगड़ गया। कुछ क्षेत्रों में बारिश तो कहीं ओलावृष्टि हुई, धूलभरी तेज हवाएं चली। विकासखंड इससे विशेष रूप से प्रभावित हुआ है।
ब्लाक में बुधवार को मौसम का मिजाज ज्यादा बिगड़ गया। कुछ क्षेत्रों में बारिश तो कहीं ओलावृष्टि हुई, धूलभरी तेज हवाएं चली। आमला ब्लाक इससे विशेष रूप से प्रभावित हुआ है। कलमेश्वरा, मालेगांव,छिपन्निया पिपरिया,नरेरा, क्षेत्र के कई गांवों में ओलावृष्टि हुई। इससे फसलों में नुकसान हुआ, कई खेतों में फसलें आड़ी पड़ गई है।

मौसम देख बढ़ी गति तीन सालों से प्राकृतिक प्रकोप के चलते फसलों में खराब होने का दंश झेल रहे किसानों की चिंता अभी मौसम बिगडऩे से फिर बढ़ गई है। किसानों का कहना है कि खेतों में गेंहू चना मटर की फसल मेहनत कर पक कर तैयार है, लेकिन इसी समय मौसम करवटें ले रहा है। मौसम की स्थिति देख कई किसान जल्दी फसलें तैयार कराने में जुटे हैं। किसान संघ के मनोज नवांगे ने बताया कि क्षेत्र में बुधवार को बारिश, ओलावृष्टि से गेहूं, सरसों व धनिया, सभी फसलों में नुकसान हुआ है।
कृषि विभाग ने फसलों का नही लिया जायजा
इस बारे में रामदयाल सिंगारे से ओलावृष्टि के विषय मे जानकारी लेना चाहा गया तो उनका फोन स्विच ऑफ आ रहा था किसान भरत मोड़क ने बताया कि कलमेश्वरा, मालेगांव,छिपन्निया पिपरिया,नरेरा, आदि इलाकों के कुछ गांवों में बारिश, ओलावृष्टि से नुकसान की जानकारी आ रही है, नुकसान कितना है इसका पता नही है । उन्होंने कहा कि इस समय फसलें तैयार है, मौसम ऐसे ही बिगड़ता रहा तो फसलों में स्वाभाविक रूप से नुकसान होगा शासन को फसलों का सर्व करना चाहिए किसान तीन साल से प्रकृतिक आपदा झेल रहे है।