आंधी तूफान से उडी कुण्डी स्कूल की छत -बड़ा हादसा टला

Scn news india

नवील वर्मा ब्यूरों शाहपुर तहसील 

शाहपुर -कुण्डी ग्राम पंचातय के  शासकीय माध्यमिक शाला की छत दोपहर में चली आंधी तूफ़ान में उड़ गई , गनीमत रही की आज बच्चों के पेपर का गेप था।  अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। बता दे की वर्तमान में कक्षा 5 एवं 8 बोर्ड की परीक्षाएं चल रही है। चूँकि आज पेपर के गेप होने से बच्चे स्कुल में नहीं थे नहीं तो बड़ी अनहोनी हो सकती थी। हादसे की तस्वीर देख अंदाजा लगाया जा सकता है की बच्चे स्कुल में होते तो …. किन्तु शुक्र है कि बड़ा हादसा होने से टल गया। हवा से स्कूल की पूरी की पूरी छत पलट गई। इसी कक्षाओं के परीक्षा सेंटर भी बनाया गया है। अब आगामी पेपर के लिए स्कूल प्रशासन को दूसरी वैकल्पित व्यवस्था करनी होगी।

हादसे की जानकारी देते हुए प्रधानपाठिका कौशल्या पाटनकर ने बताया की दोपहर तेज आंधी तूफान की वजह से स्कूल की छत पूरी की पूरी उड़ कर पलट गई , जिसका मलबा कक्षा में टेबल बेंच पर गिरा जिससे कुछ टेबल बेंच क्षतिग्रस्त हो गई है अच्छा हुआ की आज पेपर नहीं था अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था।

घटिया निर्माण 

जानकारिनुसार डेढ़ से दो वर्ष पूर्व ही शाला शिक्षा समिति द्वारा इस स्कूल की  शासकीयमद  से मरम्मत कराई गई थी , स्कूल की छत पर पहले कवेलू डालें गए थे , जो लकड़ी की बल्लियों पर बिछाई गई थी, चूँकि यह स्ट्रक्चर कवेलू के लिए उपर्युक्त था। क्यों की इसमें से हवा काआवागमन सुगमता से हो जाता था और कवेलू केवल पानी की बौछारों को  अंदर आने से  रोकते । 

 

किन्तु स्कूल प्रबंधन द्वारा भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा पार करते हुए उसी लकड़ियों के स्ट्रक्चर पर कवेलू हटा कर इंड्रस्टियल मेटल शीट लगा दी। जबकि इसके लिए लोहे की एंगलों का स्ट्रक्चर बनाया जाना था। किन्तु ऐसा ना कर बच्चो की जान से खिलवाड़ करते हुए जीआई शीट लकड़ियों पर ही ठोंक दी। जो  हवा के दबाव के चलते  पूरी छत भारी भरकम लकड़ियों की बल्लियों सहित उड़ कर पलट गई।  ये तो अच्छा हुआ की कोरोना वायरस के प्रकोप के वजह से स्कूल की छुट्टियां चल रही है और पहली से चौथी तक के बच्चो का 31 मार्च तक अवकाश है। वही आज गेप होने से परीक्षार्थी भी नहीं स्कूल में उपस्थित नहीं थे। 

इनका कहना है 

 स्कूल की छत डेमेज होने की सुचना मिली है। आज पेपर नहीं था। किन्तु आगामी परीक्षा हेतु कल सुबह मौके का मुआयना क्या जाएगा , भवन क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में वैकल्पित व्यवस्था कराई जायेगी। 

डी के शर्मा ,विकासखंड शिक्षा अधिकारी शाहपुर