माइक्रोफाइनेंस के नाम पर सूदखोरी से परेशान लोगों के लिए सभी थानों में 29 फरवरी को शिविर

Scn news india

मनोहर

मंदसौर -कलेक्टर श्री मनोज पुष्प व पुलिस अधीक्षक श्री हितेश चौधरी ने सभी थानों एवं तहसीलो को कठोर निर्देश दिए हैं, कि माइक्रोफाइनेंस के नाम पर सूदखोरी करने वालों के विरुद्ध सख्त एवं कठोर कार्यवाही होना चाहिए। इस संबंध में सभी तहसील एवं सभी थाने 29 फरवरी को प्रातः 11 बजे से सभी आम नागरिकों से आवेदन प्राप्त करें। अगर कोई भी व्यक्ति सूदखोरी से परेशान हैं या तंग है। तो वह व्यक्ति 29 फरवरी को प्रातः 11 बजे से सभी थानों एवं तहसीलों में आवेदन दे सकता है। उसकी जानकारी पूरी तरह से गोपनीय रखी जाएगी। जिले में बहुत से संस्थाये / कंपनियां / वित्तीय स्थापनाएं ( संस्थाएं ) आम जनता से निक्षेप ( डिपाजिट ) प्राप्त करती है, जबकि वे विधिनुसार ऐसे निक्षेप प्राप्त करने के लिये सक्षम नहीं है। ऐसी अनेक संस्थाये नियत समयावधि पर निक्षेप जमाकर्ताओं को वापस नहीं करती है, कई संस्थाएं अचानक अपना कार्यालय बन्द करके गायब हो जाती है। जनता से निक्षेप प्राप्त करने के लिये ऐसी संस्थायें कई बार उच्च ब्याज दर का प्रलोभन देती है तथा स्थानीय युवकों को अपना कलेक्शन एजेंट नियुक्त करती है। ऐसी संस्थाओं के विरुद्ध वर्तमान में प्रदेश में मध्यप्रदेश निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम 2000 (राज्य अधिनियम) तथा दि बैनिंग ऑफ अनरेगुलेटेड डिपॉजिट स्कीम्स अधिनियम 2019 (केन्द्रीय अधिनियम) लागू है। सभी थाने एवं तहसीलें सूदखोरों के विरुद्ध कार्यवाही के आवेदन लेकर उन पर कार्यवाही कर रिपोर्ट तुरंत कलेक्टर एवं एसपी को प्रस्तुत करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.