कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश

Scn news india

बैतूल,-कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक की अध्यक्षता में ध्वनि प्रदूषण पर नियंत्रण के संबंध में जिले के मैरिज गार्डन, डीजे एवं अन्य समारोह संचालकों की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई।
बैठक में कलेक्टर श्री नायक ने सभी समारोह संचालकों को जिले में ध्वनि प्रदूषण पर नियंत्रण के संंबंध में मप्र कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 एवं उच्चतम न्यायालय जबलपुर द्वारा पारित आदेश का शांतिपूर्ण एवं पारस्परिक सहयोग के साथ पालन करने के निर्देश दिए गए। बैठक में निर्णय लिया गया कि समारोह संचालक/मैरिज गार्डन के पास बुकिंग हेतु आने पर आयोजनकर्ता से निर्धारित प्रारूप में अभिवचन पत्र (मप्र कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 के प्रावधानों के तहत न्यूनतम ध्वनि के साथ ध्वनि विस्तारक यंत्रों का प्रयोग 75 डेसीबल तक प्रात: 6 बजे से रात्रि 10 बजे तक करने तथा उल्लंघन की दशा स्वयं वैधानिक कार्रवाई हेतु उत्तरदायी होंगे) हस्ताक्षरित करवाया जाए। अभिवचन पत्र के साथ आयोजनकर्ता का फोटोयुक्त परिचय पत्र एवं मोबाइल नंबर समारोह संचालक एसोसिएशन के लेटर पेड पर प्राप्त करेंगे।
बैठक में मैरिज लॉन/गार्डन संचालकों को निर्देश दिए गए कि वे जन सामान्य को सुदृश्य लोहे के बोर्ड लगाए, जिसमें रात्रि 10 बजे से प्रात: 6 बजे तक समारोह में ध्वनि विस्तारक यंत्रों का 75 डेसीबल से अधिक ध्वनि तथा डीजे पूर्णत: प्रतिबंधित होने की सूचना लिखी हो। समारोह संचालकों को निर्देश दिए गए कि वे आयोजनकर्ता को शासन के निर्देशों से अवगत कराएं तथा ध्वनि विस्तारक यंत्रों का निर्धारित ध्वनि तीव्रता के भीतर उपयोग करने हेतु समझाईश दें। बैठक में शासकीय कर्मचारियों को मप्र कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 का पालन करने हेतु पाबंद किए जाने के भी निर्देश दिए गए। बैठक में डिप्टी कलेक्टर श्री नितिन टाले भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.