रिश्वत के 5 लाख 90 हज़ार रुपये वापस दिलाये विधायक रामबाई ने

Scn news india

दमोह से इम्तियाज़ चिश्ती

  • विधायक रामबाई ने किया बड़ा खुलासा ।
  • भरी सभा में भ्रष्ठ अधिकारियों से माफी मंगवाई ।
  • रिस्वतखोर अधिकारियों को आगे से गलती ना करने की दिलाई शपथ।
  • हाँथ में गंगाजल लेकर ली अधिकारियों ने शपथ।
  • नियमित करने के ऐवज में लिये थे 30-30 हज़ार की  रिश्वत

दमोहः पथरिया की तेज तर्रार विधायक रामबाई परिहार ने पथरिया नगर परिषद में जमकर हुई भ्र्ष्टाचार का  खुलासा करके इलाके के लोगों में अपना नया विश्वास कायम कर लिया । मामला दमोह जिले के पथरिया विधानसभा का है ।जहाँ नगरपालिका परिषद में लगे  दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नियमित करने के ऐवज में बड़ा भ्रष्टाचार कर अधिकारियों ने मिली भगत से  किसी कार्यमचारी से 30  हज़ार तो किसी से 15 हज़ार की रिश्वत ली थी  जब कार्यमचारी नियमित नही हुए तो मामला विधायक रामबाई के सामने आया फिर क्या जो हुआ सो तमाशा सबने देखा ।जिसने भी पथरिया के नगरपरिषद के समस्या निवारण शिविर मेंदेखा देखता ही रह गया जो किसी फिल्मी दृश्य से कम नही था ।

असल जिंदगी के पर्दे की नायिका पथरिया विधायक रामबाई सिह परिहार जो अपने दबंग अंदाज़ के लिए जानी जाती है । विधायक के इलाके में दूरदूर तक कोई भी सरकारी मुलाज़िम या अधिकारी भ्र्ष्टाचार नही कर सकता  अगर किसी ने भूल से भी रिश्वत ले ली समझो उसको भरी सभा मे ज़लील होना ही पड़ेगा और हुआ भी यही दरअसल दो दिन पहले पथरिया नगर परिषद में जन समस्या निवारण कार्यक्रम आयोजित हुआ था जहाँ विधायक रामबाई परिहार पहुच गई लोगों ने विधायक से पथरिया नगर परिषद  में हुए भ्र्ष्टाचार और रिश्वत लेकर नियमित करने की बात कही जिसमें  उपस्थित कर्मचारियों ने साफ बताया गया नगर परिषद के कर्मचारियों द्वारा पीएचई विभाग के 14कर्मचारियों से 30-30 हज़ार रुपये एवम 9 सफाई कर्मचारियों से किसी से 30 हज़ार तो किसी से 15 हज़ार ले लिए गए थे नियमितीकरण कराने के नाम पर उसके बाद भी किसी को नियमित नहीं किया गया । आक्रोशित कर्मचारियों ने पथरिया विधायक से इस बात की शिकायत की  जब रामबाई को जानकारी लगी तो पहले तो भरी सभा मे मंच से ही विधायक ने भ्रष्ट अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई और दो दिन में पैसे वापस देने अल्टीमेटम दे दिया जिसे सबने देखा ।

दो दिन बाद पथरिया विधायक द्वारा नियमितीकरण की एवज में लिए गए कुल 5 लाख 90 हज़ार कर्मचारियों को वापस दिलाए इतना ही नही  भरी परिषद की बैठक में भ्रष्ट  अधिकारियों को आगे से ऐसी गलती ना दोहराने की हिदायत के साथ साथ पानी का गिलास हाँथ में लेकर गंगाजल समझकर अधिकारियों को शपथ दिला दी ।इसके अलावा  पीएचई विभाग के दरोगा कलीम खान को पद से हटाकर गिरधारी पटेल को पीएचई विभाग का जिम्मेदार बना दिया गया। विधायक रामबाई भले ही पथरिया विधानसभा से ताल्लुक रखतीं हो लेकिन दमोह जिले की चारों विधानसभा क्षेत्र की जनता का भरोसा बनकर उभरी है इस बात को हर कोई भली भाँति जानता है और मानता है । विधायक रामबाई यहीं नही रुकीं उन्होंने कहा  की प्रधानमंत्री आवास योजना में मेरे नाम को बदनाम किया जा रहा है लेकिन नगर परिषद द्वारा अपात्र लोगों को प्रधानमंत्री योजना का भरपूर लाभ दिया गया जबकि गरीब तबके के लोग आज भी आवास के लिए  भटक रहे हैं । और दूसरी तरफ दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों ने  30-30 हजार रुपए लिए ,कई कर्मचारी पैसे दे चुके हैं उसके बाद भी अभी तक परमानेंट नहीं किया गया। और आज तक उन पैसों का अता पता नहीं  जिन लोगों ने पैसे लिए थे विधायक ने उनको मंच पर बुलाया भरी सभा मे और  पैसों को 2 दिन की मोहलत देते हुए वापस करने का बोला  था फिर क्या दो दिन बीत जाने के बाद  विधायक ने संज्ञान में लेते हुए  संबंधित व्यक्तियों से तत्काल कर्मचारियों के रुपए लौटाने का आदेश दिया था जिसपर  नगर पालिका परिषद पथरिया के कर्मचारियों से ली गई राशि विधायक की उपस्थिति में वापस की गई और  अपने अपराध की क्षमा याचना करते हुए  हाथ मे  गंगाजल  लेकर सभी के सामने शपथ दिलाई की आगे से ऐसा नही करेगें । प्रत्येक कर्मचारियों से बात करते हुए सभी की राशि वापस कराई गई। जनता जब हर तरह से परेशान होती है तो सीधे रामबाई की शरण मे पहुच जाती है और फिर मिलता है उसे न्याय इसलिए को कहते है इलाका किसी का भी हो सिक्का तो रामबाई का ही चलेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

"scn news india"copyright'-2007-2020-(स्वामित्व/संपादक-राजेंद्र वंत्रप, चैनल हेड-हर्षिता वंत्रप,Registerd MP08D0011464 /63122/ 2019 /WEB)   'scnnewsindia@gmail.com