scn news india

बैतूल बन सकता है विश्व जनजातियों की सांस्कृतिक राजधानी-सुनील हिरानी की गडकरी से हुई विस्तृत चर्चा

Scn news india

विशाल भौरासे की रिपोर्ट

  • सुनील हिरानी की गडकरी से हुई विस्तृत चर्चा
  • बैतूल बन सकता है विश्व जनजातियों की सांस्कृतिक राजधानी
  • एक्सपोर्ट होंगे सागौन की लकड़ी के उत्पाद
  • फ्रांस इटली तथा स्वीडन है मार्केट
  • बैतूल भोपाल राजमार्ग , गडकरी लेंगे संज्ञान

बैतूल। राष्ट्रीय इस्पात निगम के स्वतंत्र निदेशक सीए सुनील हिरानी की दिल्ली से नागपुर यात्रा के दौरान केंद्रीय कैबिनेट मंत्री नितिन गडकरी से
हुई मुलाकात के दौरान बैतूल के सर्वांगीण विकास को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। हिरानी ने बताया की ओ डीओपी “वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट ” के लिए बैतूल की सागौन की लकड़ी से बनने वाले उत्पादों के लिए फ्रांस , स्वीडन तथा इटली जैसे देशों में एक्सपोर्ट के लिए कई रास्ते खुलेंगे। इस संबंध में गडकरी ने विस्तृत चर्चा हेतु उद्यमियों के साथ सुनील हिरानी को आमंत्रित किया है तथा पूर्ण मार्गदर्शन तथा सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया है। इस दौरान उन्होंने बैतूल भोपाल राष्ट्रीय राजमार्ग में होने वाली देरी के लिए उक्त कार्य का संज्ञान लेने का भी आश्वासन दिया।
बैतूल जिले को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के साथ ग्लोबल सेंटर फॉर ट्राइबल कल्चर बनाने की दिशा में हिरानी ने एक अत्यंत दूरगामी एवं महत्वाकांक्षी परियोजना पर गडकरी से चर्चा करते हुए उन्हें बताया कि बैतूल भारतवर्ष का केंद्र बिंदु है तथा इसे विश्व की समस्त जनजातियों की सांस्कृतिक राजधानी बनाया जा सकता है जिससे सनातन के ” वसुधैव कुटुंबकम् ” के सूत्र का प्रतिपादन होगा, लोककला के अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना से बैतूल ही नही मध्यप्रदेश का सर्वांगीण विकास होगा तथा विश्वगुरु बनने की दिशा में यह भारत के लिए एक मील का पत्थर साबित होगा।