scn news indiaबैतूलभोपाल

प्रत्याशियों को उन पर दर्ज आपराधिक प्रकरणों का अनिवार्य रूप से कराना होगा प्रकाशन

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट

बैतूल-  विधानसभा और निर्वाचन आदर्श आचार संहिता के अनुपालन में सभी प्रत्याशियों को अपने आपराधिक रिकॉर्ड यदि कोई हो तो उनका प्रकाशन प्रिंट मीडिया, सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर तीन चरणों में करना होगा। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा इस संबंध में एक आदेश भी जारी किया गया है।
प्रत्याशियों को निर्धारित प्रारूप में ऐसे राष्ट्रीय समाचार पत्रों में, जिनकी प्रसार संख्या कम से कम 75000  एवं जिनका प्रसारण एक से अधिक राज्य में हो में करना होगा। इसी प्रकार इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रसारण के लिए जिलों के स्थानीय टीवी चैनल जिनकी प्रसारण संख्या कम से कम 25000 हो में जानकारी प्रकाशित करना होगी। समाचार पत्रों की दर सूची मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की वेबसाइट www.ceomadhya pradesh.nic.in से डाउनलोड की जा सकती है। प्रत्याशी अपने आपराधिक रिकॉर्ड का प्रकाशन बोर्ड लेटर में कराएंगे। समाचार पत्रों में न्यूनतम 12 फॉन्ट का आकार हो। उपरोक्त जानकारी प्रत्येक राज्यवार प्रकाशित की जाएगी।
प्रत्याशी किसी पार्टी विशेष की ओर से चुनाव लड़ रहे हैं तो उन्हें पार्टी को अपने आपराधिक प्रकरणों की जानकारी देना अनिवार्य है। राजनीतिक दल अपनी वेबसाइट पर उक्त प्रत्याशी के आपराधिक रिकॉर्ड को प्रदर्शित करने के लिए बाध्य होंगे। राजनीतिक दल आपराधिक मामलों के बारे में घोषणा प्रशासन के बारे में एक रिपोर्ट निर्वाचन के परिणाम की घोषणा के 30 दिनों के अंदर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को देंगे।