केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा इंदौर, मध्य प्रदेश में आयोजित किये जा रहे “हुनर हाट” के उद्घाटन

Scn news india

मनोहर

इंदौर (मध्य प्रदेश), 09 फरवरी, 2020: केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज यहाँ कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा देश भर में आयोजित किये जा रहे “हुनर हाट”, जरूरतमंद दस्तकारों, शिल्पकारों के आर्थिक सशक्तिकरण का “मेगा मिशन” साबित हुए हैं।

मध्य प्रदेश के महामहिम राज्यपाल श्री लालजी टंडन और श्री नकवी ने 8 से 16 फरवरी, 2020 तक विजय नगर, इंदौर, मध्य प्रदेश में आयोजित किये जा रहे “हुनर हाट” का आज उद्घाटन किया।

इस अवसर पर महामहिम राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने कहा कि भारत विभिन्नता वाला देश है जहाँ अलग-अलग कला, संस्कृति, भाषा, वेशभूषा है। यही हिंदुस्तान की पहचान है। देश के हर कोने में हुनर है।

महामहिम राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने श्री नकवी को व्यापक स्तर पर “हुनर हाट” के माध्यम से दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार के अवसर मुहैया कराने के लिए बधाई दी। महामहिम राज्यपाल ने कहा कि श्री नकवी के नेतृत्व में केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के देश की विरासत को मौका-मार्किट मुहैया कराने के “ड्रीम प्रोजेक्ट” को मजबूत कर रहा है। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय देश के कोने-कोने के हुनरमंदों की शानदार विरासत का संरक्षण करने एवं उन्हें राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय मार्किट उपलब्ध कराने का ऐतिहासिक कार्य कर रहा है।

इस अवसर पर श्री नकवी ने कहा कि स्वदेशी क्राफ्ट, क्यूज़ीन और कल्चर और दस्तकारों, शिल्पकारों के आर्थिक सशक्तिकरण के “मेगा मिशन”, “हुनर हाट” की सफलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले लगभग 3 वर्षों में “हुनर हाट” के माध्यम से लगभग 3 लाख दस्तकारों, शिल्पकारों, खानसामों को रोजगार और रोजगार के मौके उपलब्ध कराये गए हैं। इनमे बड़ी संख्या में देश भर की महिला दस्तकार भी शामिल हैं। आने वाले लगभग 5 वर्षों में लगभग 100 “हुनर हाट” आयोजित किये जायेंगे जिनके माध्यम से लाखों “हुनर के उस्ताद” दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार और रोजगार के अवसर मुहैया कराये जायेंगे।

श्री नकवी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ना केवल दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार दे रही है बल्कि भारत की विलुप्त हो रही दस्तकारी-शिल्पकारी की विरासत का विकास भी कर रही है। प्रधानमंत्रीं श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने देश के अलग-अलग हिस्सों में 100 “हुनर हब” स्वीकृत किये हैं। इन “हुनर हब” में दस्तकारों, शिल्पकारों, पारम्परिक खानसामों को वर्तमान जरूरतों के हिसाब से ट्रेनिंग दी जा रही है। उनके हुनर को और निखारा जा रहा है और उनके स्वदेशी उत्पादों को राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय मार्किट मुहैया कराया जा रहा है।

श्री नकवी ने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों के प्रमुख स्थानों पर आयोजित होने के कारण “हुनर हाट” में दस्तकारों, शिल्पकारों के हस्तनिर्मित दुर्लभ स्वदेशी उत्पाद, अन्य कलाकृतियों की जबरदस्त बिक्री हो रही है और इन दस्तकारों, शिल्पकारों को देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी आर्डर मिल रहे हैं। “हुनर हाट”, दस्तकारों, शिल्पकारों का “एम्प्लॉयमेंट और एम्पावरमेंट एक्सचेंज” बन गया है।

श्री नकवी ने कहा कि इंदौर में आयोजित किया जा रहा “हुनर हाट” अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा आयोजित 19वां “हुनर हाट” है। इससे पहले दिल्ली, मुंबई, इलाहाबाद, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, हैदराबाद एवं पुदूचेरी में “हुनर हाट” आयोजित किए जा चुके हैं। अगले “हुनर हाट” का आयोजन इंडिया गेट लॉन, राजपथ, नई दिल्ली में (13 से 23 फरवरी 2020), रांची में (29 फरवरी से 8 मार्च, 2020), चंडीगढ़ में 13 मार्च से 22 मार्च, 2020 तक आयोजित किया जाएगा।

श्री नकवी ने कहा कि आने वाले दिनों में “हुनर हाट” का आयोजन गुरुग्राम, बेंगलुरु, चेन्नई, कोलकाता, देहरादून, पटना, भोपाल, नागपुर, रायपुर, पुडुचेर्री, अमृतसर, जम्मू, शिमला, गोवा, कोच्चि, गुवाहाटी, भुबनेश्वर, अजमेर आदि में किया जायेगा।

इदौंर में आयोजित “हुनर हाट” में 125 से ज्यादा स्टॉल लगाए गए हैं जिनमें देश भर के लगभग 250 दस्तकार, शिल्पकार, खानसामे भाग ले रहे हैं जो अपने देश के कोने-कोने के स्वदेशी हस्तशिल्प और हथकरघा के शानदार स्वदेशी उत्पाद अपने साथ लाये हैं। यहाँ विभिन्न राज्यों के पारंपरिक लज़ीज़ पकवान भी “बावर्चीखाने” सेक्शन में अपनी सुगंध बिखेर रहे हैं। इसके अलावा रोजाना होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम लोगों के आकर्षण का मुख्य केंद्र होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All rights reserved by "scn news india" copyright' -2007 -2019 - (Registerd-MP08D0011464/63122/2019/WEB)
error: Content is protected !!