एसडीएम की कार्रवाही से रेत माफियाओं में हड़कंप, एक सैंकड़ा ट्रकों की जांच होशंगाबाद की रायल्टी पर जिले में रेत का परिवहन

Scn news india

भैसदेही ब्यूरो आशुतोष त्रिवेदी की कलम से

भैंसदेही। नगर की सीमा से होकर रेत का अवैध परिवहन नहीं थम रहा है। रेत के अवैध डंपर और ट्रकों की धमाचौकड़ी लगातार देखी जा रही थी। ऐसे में भैंसदेही एसडीएम आरएस बघेल के नेतृत्व में राजस्व और पुलिस विभाग की संयुक्त कार्रवाही ने एक बार फिर रेत के अवैध कारोबारियों में हड़कंप पैदा कर दिया है। दरअसल शुक्रवार अपरांह सुबह 4 बजे गुदगांव चौपाटी पर रेत का अवैध परिवहन करने वाले डंपर-ट्रकों के खिलाफ अभियान चलाया।

जिसमें एक सैकड़ा से अधिक डंपर-ट्रकों के दस्तावेजों की जांच की गई। चेकिंग के दौरान कुछ ट्रकों के पास रायल्टी होशंगाबाद की पाई गई तो वहीं रेत शाहपुर एवं भौंरा से परिवहन की जा रही थी। ऐसे ट्रक-डंपरो को भी जांच के लिए खड़ा करवाया लिया गया, जबकि जिन डंपरों में क्षमता से अधिक रेत का परिवहन किया जा रहा था उन डंपरों को भी अपने कब्जे में लेकर जांच की जा रही है। इस कार्रवाही के दौरान एसडीएम आरएस बघेल के साथ प्रमुख रूप से तहसीलदार शंकर धुर्वे, झल्लार थाना प्रभारी राकेश सरियाम, भैंसदेही एसआई बसंत आहके, पुलिस एवं राजस्व महकमा उपस्थित रहा।

अवैध परिवहन को लेकर चलाया जा रहा पखवाड़ा – एसडीएम आरएस बघेल ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार 5 से 20 फरवरी तक अवैध उत्खनन एवं अवैध परिवहन के खिलाफ विशेष पखवाड़ा चलाया जा रहा है। इसी पखवाड़े के तहत शुक्रवार को सुबह 4 बजे गुदगांव चौपाटी पर रेत के वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। जिसमें एक सैकड़ा से अधिक वाहनों के दस्तावेज और उसमें भरे लोड का निरीक्षण एवं जांच की गई। संदिग्ध पाए जाने पर कई डम्पर खड़े करवा लिए गए।


होशंगाबाद की रायल्टी पर जिले में परिवहन – एसडीएम के मुताबिक करीब 70 डम्पर एवं ट्रक चेक किए गए है। उनमें से कई डम्पर एवं ट्रक संचालकों के पास होशंगाबाद जिले की रायल्टी मिली जबकि उनके द्वारा बैतूल जिले के शाहपुर और भौंरा से रेत का खनन कर परिवहन किया जाना पाया गया है। जानकारी के अनुसार करीब 25 ट्रक डम्पर के पास होशंगाबाद की रायल्टी थी और आधा दर्जन से अधिक ओवरलोड थे। करीब 30 लोगों के दल द्वारा की गई कार्रवाई में 35 से अधिक ट्रक खड़े करवा लिए है।


रेत माफियाओं में हडकंप – एसडीएम द्वारा की गई कार्रवाही के बाद रेत माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। एसडीएम श्री बघेल ने बताया कि जिन वाहनों में सही मात्रा में रेत और कागजात सही पाए गए उन्हें तुरंत छोड़ दिया गया है। वहीं जिन वाहनों में रायल्टी, ओवर लोडिंग सहित अन्य लापरवाही देखने मिली उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। श्री बघेल ने कहा कि यह कार्रवाहीं निरंतर जारी रहेगी। अवैध रेत का परिवहन करने वाले लोगों को बख्सा नहीं जायेगा।


जिले की दूसरी बड़ी कार्रवाही – अवैध रूप से रेत परिवहन और अन्य जिलों की रायल्टी पर बैतूल में रेत परिवहन किये जाने के खिलाफ प्रशासन की यह दूसरी बड़ी कार्रवाही है। इसके पूर्व पिछले माह प्रशासन के संयुक्त टीम ने पीएचई मंत्री के निर्देश पर लगातार दस घंटे तक जिले भर में अवैध रेत का परिवहन एवं उत्खनन करने वालों पर कार्रवाई की थी। जिसके बाद काफी हद तक रेत के अवैध परिवहन पर अंकुश था, लेकिन कार्रवाही ठंडे बस्ते में जाते ही पुन: रेत का अवैध परिवहन शुरू हो गया था। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि इस कार्रवाही के बाद काफी हद तक रेत के अवैध परिवहन पर अंकुश लगेगा।

इनका कहना है –
सुबह 4 बजे से की गई कार्रवाई में 70 से अधिक ट्रक-डम्पर चेक किए गए। 25 से अधिक होशंगाबाद की रायल्टी परिवहन कर रहे थे। करीब 7 ट्रक ओवरलोड पाए गए। बाकी ट्रकों को चेकिंग के बाद छोड़ दिया गया। फिलहाल 36-37 ट्रक खड़े है। कार्रवाई जारी है। –

आरएस बघेल, एसडीएम भैंसदेही

Leave a Reply

Your email address will not be published.