scn news indiaकटनी

युवती ने बात करने से मना किया तो कतिथ प्रेमी ने जंगल मे ले जाकर उतारा मौत के घाट, नरकंकाल मिलने के मामले का पर्दाफाश

Scn news india

सुनील यादव जिला ब्यूरो 

कटनी के माधवनगर थाना पुलिस ने युवती के सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया की हत्यारा इस युवती का कथित प्रेमी है और उसने युवती की हत्या इस लिए कर दी की वह उससे बात करना बंद कर दी थी और प्रेमी ने युवती की हत्या घने जंगल में गला घोट की और उसके शव को पेड़ में बंध शहर में बेखिफ घूम रहा था। पुलिस ने बताया की मृतिका ग्राम नैगवा थाना बडवारा निवासी युवती अंजना है जिसकी उम्र 19 साल है जो कटनी में छात्रावास में रहकर पढ़ाई कर रही थी। युवती गर्ल्स कालेज कटनी की छात्रा थी। विगत 12 जून के दिन छात्रावास से पेपर देने कालेज के लिये निकली थी पर अचानक गायब हो गई थी। युवती के गायब होने की जानकारी उसके पिता अनिल सिंह ठाकुर ने 13 जून 23 को थाना माधवनगर में गुम इंसान प्रकरण दर्ज कराया था। रिपोर्ट के बाद मृतिका को दोस्त से पता चला की शिवमंगल सिंह ठाकुर नमक युवक ने मृतिका को लेकर गया था जिसे पकड़ सघन पूछताछ में शिवमंगल सिंह ने गायब हुयी युवती के माता पिता के समक्ष बताया कि ग्राम नैगवों में उसकी बहन की ससुराल है जहां बहन के यहाँ आने जाने से उसका अंजना सिंह से परिचय हो गया और धीरे धीरे दोनो का आपस में मिलना जुलना शुरु हो गया था।

माधवनगर की पुलिस थाना प्रभारी विजय विश्वकर्मा ने बताया की आरोपी युवक शिवमंगल सिंह को अरेस्ट कर मृतक युवती की खोजबीन के लिए कैलवारा रीठी मार्ग मे ग्राम खरखरी के आगे ग्राम बिरुहली के जंगल लेकर गई जहा घने जंगल में पहाड़ी के पीछे मृतिका अंजना सिंह का कंकाल उसके ही दुपट्टे से बंधा हुआ मिला और पास में ही उसके जूते मिले मृतिका के दुपट्टे और जूते से मृतिका के परिजनों ने पहचान की वही मौके पर ले जाए गए आरोपी शिवमंगल ने बताया अंजना उससे एक डेढ़ माह से बात नही कर रही थी तथा किसी दूसरे से बात करती थी। जिसके बाद वह आग बबूला हो गया तथा अंजना को ठिकाने लगाने का मन बनाकर उसकी हत्या का षड्यंत्र रचा। 6 जून को एल आई सी के सामने खड़ा होकर अंजना का इंतजार करने लगा एल आई सी के पास अपनी सहेली दीपशिखा के साथ जब अंजना आयी तो दोनो को मोटर सायकल में बैठाया और अंजना की सहेली दीपशिखा को मिशन चौक में छोड़ दिया और अंजना सिंह को अपने साथ मोटर सायकल से घुमाने को कहकर साथ में कैलवारा रीठी मार्ग मे ग्राम खरखरी के आगे ग्राम बिरुहली के जंगल ले गया और दोनो ले बीच जंगल में बात विवाद हुआ और जब आरोपी शिवमंगल ने मृतिका अंजना से बात नही कर करने का कारण पूछा तो अंजना सिंह ने कहा कि मेरा मूड मैं करू या न करूँ इसी बात को लेकर गुस्साए शिवमंगल सिंह ने अंजना सिंह का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी है। और अंजना सिंह के दुपट्टे से पेड में पीछे बाँध दिया और वह अकेला शहर आ गया था।

माधवनगर पुलिस बताया की संदेही शिवमंगल सिंह को पकड़ा और उसे मृतिका अंजना के परिजनों के साथ उसके बताए जंगल में लेकर पहुंचे जहा एक चार के पेड में एक दुपट्टा बँधा हुआ मिला और आसपास एक नर कंकाल बिखरा हुआ कई भागों में पाया गया मौके से दुपट्टा जूते एवं कपडे आदि को देखकर अंजना सिंह के माता पिता ने अंजना सिंह के रूप में पहचान की।