लापरवाह अधिकारियों का वेतन रोकने के कलेक्टर ने दिए निर्देश

Scn news india

मनोहर

रायसेन – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर श्री उमाषंकर भार्गव ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना एवं लाड़ली लक्ष्मी योजना की समीक्षा की। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की समीक्षा के दौरान धीमी प्रगति पर घोर नाराजगी व्यक्त करते हुए कलेक्टर श्री भार्गव ने महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्री ज्ञानेष खरे को लापरवाह परियोजना अधिकारियों एवं सुपरवाईजर के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने बेहद कम प्रगति वाले परियोजना अधिकारियों एवं सुपरवाईजर का वेतन रोकने के भी निर्देश दिए हैं।
कलेक्टर श्री भार्गव ने योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के लिए अधिकारियों को आंगनबाड़ियों का नियमित निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों की शत प्रतिशत उपस्थिति सुनिष्चित करने तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नियमानुसार नाष्ता और मध्यान्ह भोजन का वितरण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान आंगनबाड़ी केन्द्र बंद मिलने या लापरवाही पाए जाने पर संबंधितों के विरूद्ध कार्यवाही की जाए। उन्होंने एएनसी के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करने और आवष्यक जानकारी प्रदान करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री भार्गव ने लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत पंजीयन की जानकारी लेते हुए कहा कि कोई भी पात्र हितग्राही योजना से वंचित न रहे। बैठक में जिला महिला सषक्तिकरण अधिकारी श्री संजय गहरवाल सहित परियोजना अधिकारी एवं पर्यवेक्षक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.