डाक्टर अशोक मर्सकोले निवास विधायक की कलम से साभार

Scn news india

शारदा श्रीवास मंडला 

डाक्टर अशोक मर्सकोले निवास विधायक की कलम से साभार
आज मैं नैनपुर कॉलेज की जनभागीदारी संबंधी मीटिंग में जाते हुए बारिस होने के बीच नादिया open में गीले होते अनाज को देखा, फिर आगे kajarwada में उससे भी बुरी हालत में धान खुले में था, कोई सुरक्षा नहीं कोई अधिकारी कर्मचारी नहीं,हमारे इन जिम्मेदार अधिकारीयो को कैसे सम्मानित करें, जिनके हाथ हमने विभाग की जिम्मेवारी दे रखी है, क्या व्यवस्था देख रहे हैं ये लोग, जहाँ भी जाओ ये लापरवाही दिख रही है, खरीदी के बाद उनको सुरक्षित नहीं कर पा रहे हैं ना परिवहन करा पा रहे हैं, ये बेलगाम होकर मनमानी पूर्वक काम में लगे हैं,कुछ पूछने पर कोई भी जवाब दे देंगे, सरकार की कितनी कीमती अनाज को इनकी लापरवाही से ख़राब होते देख रहे हैं कई बार मेरे द्वारा दौरा कर, सुरक्षित रखने के निर्देश देने के बाद भी इनकी कार्यप्रणाली पर कोई असर नहीं।विभागीय अधिकारी इसका जवाब दे।
कलेक्टर साहब इनसे जवाब मांगे, मैं ps और विभागीय मंत्री जी को भी यह सब जानकारी दूँगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.