ठगी का बड़ा मामला -स्वास्थ्य मंत्री के फर्जी लेटर पेड से लाखों की ठगी -पीड़ित पंहुचे थाने

Scn news india

सुनील यादव जिला ब्यूरो 

कटनी जिले के कोतवाली थाने में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभूराम चौधरी का फर्जी लेटर पेड और फर्जी सरकारी टेंडर दिखाकर 1 करोड़ 39 लाख रुपए की ठगी करने का मामला सामने आया है। जिसकी शिकायत कोतवाली थाने में की गई है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। कोतवाली टीआई अजय सिंह का कहना है कि जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

कोतवाली टीआई अजय सिंह ने बताया कि जालपा वार्ड निवासी रुपेश सरावगी, सिद्धार्थ खर्द, पुरानी बस्ती निवासी सत्यम शर्मा, मुसरहा वार्ड निवासी अरुण कुशवाहा और खंडवा जिले के छैगांव निवासी आदित्य गगराडे ने शिकायत कि है कि माधवनगर थाना क्षेत्र के समदड़िया सिटी निवासी अर्जित पिता दिलीप वर्मा और एबी वेरियर्स सर्विसस फर्म के अर्जित वर्मा ने फर्जी दस्तावेज दिखाकर योजनाबद्ध तरीके से धोखाधड़ी करते हुए ‘लाखों ‘रुपए की ठगी की गई है। शिकायत में बताया कि अभी से 6 महीने पहले स्वास्थ्य मंत्री प्रभूराम चौधरी के फर्जी लेटर पेड और फर्जी सरकारी टेंडर दिखाकर रुपेश सरावगी से 20 लाख, सिद्धार्थ खर्द से 30 लाख, सत्यम शर्मा से 15 लाख,अरुण कुशवाहा से 50 लाख और आदित्य गगराडे से 24 लाख रुपए अर्जित वर्मा ने अपने खाते, फर्म के खाते और नकद के रूप में लिए।निर्धारित किए गए समय पर जब अर्जित वर्मा ने रुपए वापस नहीं किए तो सभी लोगों को संदेह हुआ। इस बीच अर्जित वर्मा ने फर्जी बिल, फर्जी टेंडर और स्वास्थ्य मंत्री का फर्जी लेटर पेड दिखाए कहा कि टेंडर पास हो गया है, जल्द लिए गए रुपए वापस कर दिए जाएंगे। लेकिन अब अर्जित वर्मा रुपए वापस करने से मना कर रहा है, साथ ही धमकी दी गई है कि उसे ज्यादा परेशान किया गया तो वह आत्महत्या कर सभी को फंसा देगा।शिकायतकर्ताओं ने पुलिस से जांच कर अर्जित वर्मा के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है।

अजय बहादुर सिंह – कोतवाली   थाना प्रभारी।