पत्रकारिता के एक स्तंभ, लेखक व राजनीति के सूत्रधार स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी के नाम पर छत्तीसगढ़ की राजधानी की एक सड़क का नामकरण

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट

  • सुप्रसिद्ध समाजसेवी, कृषि विशेषज्ञ,
  •  स्वर्गीय बेनीमाधव तिवारी मार्ग का लोकार्पण
रायपुर। सुप्रसिद्ध समाजसेवी, कृषि विशेषज्ञ, पत्रकारिता के एक स्तंभ, लेखक व राजनीति के सूत्रधार स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी के नाम पर राजधानी की एक सड़क का नामकरण आज हो गया। पीडब्ल्यूडी चौक से सेंटपाल स्कूल तक जाने वाली सड़क अब बेनीमाधव तिवारी मार्ग कहलाएगी। गत 26 नवंबर को छत्तीसगढ़ कालेज के पीछे, बैरनबाजार में संपन्न हुए एक गरिमामय कार्यक्रम में इसका नामकरण समारोह संपन्न हुआ।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविदयालय के कुलपति डॉ. केसरी लाल वर्मा थे, जबकि अध्यक्षता रामकृष्ण हास्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. संदीप दवे ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी व नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे उपस्थित रहे कार्यक्रम के संयोजक रवि तिवारी थे। कार्यक्रम नगर निगम रायपुर व तिवारी परिवार के सयुक्त तत्वधान में आयोजित किया गया।
सर्वप्रथम मार्ग का लोकार्पण मुख्य अतिथि, विशेष अतिथि व उपस्थित आमंत्रित गणमान्य नागरिकों के बीच किया गया। दीप प्रज्जवलन और प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद उपस्थित जनसभा के मध्य स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी के कृतित्व और व्यक्तित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला गया।
श्री रवि तिवारी ने स्वागत भाषण में अपने पिता स्वर्गीय बेनीमाधव तिवारी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए रायपुर इस कार्य के लिए नगरनिगम व खासकर निगम के सभापति श्री प्रमोद दुबे के सहयोग के प्रति आभार प्रकट किया। हसन खान पूर्व आकाशवाणी निदेशक, मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष ने उनके साथ के समय को याद किया।श्री राजेन्द्र तिवारी अध्यक्ष खादी व ग्राम उद्योग बोर्ड ने उनके साथ बिताए लम्बे राजनीतिक सफर का उल्लेख करते हुए अपने उदबोधन में कहा कि स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी एक विद्वान, अनुशासित, समय के पाबंद, मिलनसार और स्पष्टवादी व्यक्तित्व थे. उनके जितने राजनीतिक संपर्क थे, उतने ही सामाजिक संपर्क भी. और वे उनका बेहद सम्मान करते थे. नगर निगम ने ऐसे व्यक्तित्व के नाम पर एक सड़क का नामकरण किया, यह प्रशंसनीय और अनुकरणीय फैसला है। सुप्रसिद्ध साहित्यकार गिरीश पंकज ने भी स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी के बारे में उपस्थितजनों को उनके साथ बिताए अपने अनुभवों को लोगो के साथ किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डॉ संदीप दवे ने सड़क के नामकरण पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सड़क एक शिक्षा के विद्यालय से शुरू होकर कॉलोनी तक जाती है इसके गहरे मायने है जो स्वर्गीय बेनी माधव तिवारी के जीवनी से सरोकार रखता है।
कार्यक्रम के मुख्य अथिति डॉ केशरीलाल वर्मा ने संत व विद्वान बेनीमाधव तिवारी के नाम पर सड़क का नामकरण करने के लिए रायपुर नगर निगम व उसके सभापति प्रमोद दुबे की साधुवाद दिया तथा सलाह दी कि इसी तरह से हर क्षेत्र के विद्वानों को उनके कार्य के लिए निगम को सम्मानित किए जाने की परंपरा को बरकार रखना चाहिए। कार्यक्रम के अंतिम पायदान पर सम्पूर्ण प्रोग्राम के सूत्रधार प्रमोद दुबे अध्यक्ष नगर निगम ने आभार व्यक्त करते हुए कार्यक़म की महत्ता को समझाते हुए बेनीमाधव तिवारी जी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला, उन्हें नवजवानों के लिए प्रेरणास्रोत बताया तथा सभी लोगो का आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम का संचालन श्री अंशुल भारद्वाज के किया। इस अवसर पर राजधानी के पूर्व निर्वाचन आयुक्त सुशील त्रिवेदी, मनोज त्रिवेदी, इरफान कुरेशी, शिरीष नलगुंडवार, अंजय शुक्ला, सुभाष मिश्रा, अनिल द्विवेदी, डॉ अमिताभ बनर्जी, उमा श्रीवस्तव, रियाज खान आदि गणमान्य नागरिक, पत्रकार, महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफेसर, राजनेता, समाजिक कार्यकर्ता तथा तिवारी परिवार के रिश्तेदार सहित भारी संख्या में जन भागीदारी रही।