पहाड़ों पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से तापमान में उतार-चढ़ाव का सिलसिला बना, दो डिग्री सेल्सियस चढ़ा पारा

Scn news india
पहाड़ों में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ और बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहे कम दबाव के क्षेत्र के असर से तापमान में उतार-चढ़ाव का सिलसिला फिर शुरू हो गया है। तापमान में लगतार आंशिक बढ़ोत्तरी भी देखी जा रही है।
जबलपुर। पहाड़ों में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ और बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहे कम दबाव के क्षेत्र के असर से तापमान में उतार-चढ़ाव का सिलसिला फिर शुरू हो गया है। तापमान में लगतार आंशिक बढ़ोत्तरी भी देखी जा रही है। बीते दो दिनों में दिन का अधिकतम तापमान 25 डिग्री से बढ़कर 27 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है वहीं न्यूनतम तापमान भी मामूली रूप से घट-बढ़ रहा है। हालांकि, वातावरण में ठंड का असर बरकार है। शीतलहर का असर भी कम हो गया है। मौसम विभाग की माने तो पश्चिम विक्षोभ के असर से अगले दो-तीन दिनों तक मौसम का मिजाज ऐसा ही रहेगा। 25 नंवबर के बाद पश्चिम विक्षोभ कमजोर होते ही तापमान में फिर से गिरावट का दौर शुरू हो जाएगा।
धीमी पड़ी उत्तरी हवा-
मौसम में आए बदलाव के चलते उत्तरी हवा भी धीमी पड़ गई है। मंगलवार को दिन में वातावरण में ठंडक का असर कम रहा। धूप की चुभन भी महसूस की गई। हालांकि रात को हवाओं में हल्की ठंडक घुली रही। मंगलवार को अधिकतम तापमान 26.8 डिग्री सेल्सियस से मामूली रूप से बढ़कर 27.0 डिग्री और न्यूनतम 9.3 डिग्री से आंशिक रूप से बढ़कर 9.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।
——-
फिलहाल शुष्क रहेगा मौसम-
मौसम विभाग के अनुसार शीतलहर चलने के संकेत नहीं मिल रहे हैं। मौसम शुष्क रहेगा। उत्तरी हवाओं की रफ्तार भी कम होकर दो किमी प्रति घंटा हो गई है। जिससे ठंड का असर कुछ कम है। अगले कुछ दिनों तक तापमान में उतार-चढ़ाव देखने मिल सकता है। इसके बाद उत्तरी ठंडी हवाओं से ठंडक बढ़ जाएगी।