अवैध कालोनाइजरों पर शिकंजा -60 के लाइसेंस निरस्त, 25 के खिलाफ FIR. मचा हड़कंप

Scn news india

मनोहर

प्रदेश में फिर अवैध कालोनाइजरों पर शिकंजा कसना शुरू हो गया है। जिसकी शुरुआत जबलपुर जिले से प्रारम्भ हो गई है। क्षेत्र में  नियम विरुद्ध ढंग से कॉलोनियाँ तानने वाले कॉलोनाईज़र्स के खिलाफ प्रशासन की सख्ती से कॉलोनाइजरों में हड़कंप मचा हुआ है। बता दे कि प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए 60 कॉलोनाईज़र्स के लाइसेंस निरस्त कर दिए हैं। इनमें से 25 के खिलाफ FIR की गयी है। जिससे हड़कंप मचा हुआ है।

पिछले 8 माह में जबलपुर जिला प्रशासन ने 60 ऐसे फर्जी कॉलोनाइजरों के खिलाफ कार्रवाई की है। जो नियमों की धज्जियां उड़ाकर कॉलोनी बना रहे थे। खास बात यह है कि इनमें से 25 कॉलोनाइजरों के खिलाफ तो FIR दर्ज कराई गई है। गौरतलब है कि कॉलोनी बनाने के लिए न सिर्फ कई विभागों की अनुमति लेनी पड़ती है बल्कि कॉलोनाइजर लाइसेंस और विकास शुल्क भी जमा करना पड़ता है।

जबकि बिना किसी पंजीयन और प्रशासकीय अनुमति जबलपुर में कुछ बिल्डरों ने कहीं भी कॉलोनियाँ तान करोड़ों की कमाई करने का सिलसिला शुरू कर दिया है। जिसे देखते हुए प्रशासन ने ऐसे लोगों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। जिला प्रशासन ने 60 कॉलोनाइजरों के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ ही उनकी जमीनों की खरीद फरोख्त पर भी रोक लगा दी है।