कलेक्टर अवि प्रसाद के निर्देश पर हुई खिरहनी छात्रावास की जांच

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

छात्रावास अधीक्षक के प्रभार से हटाये गये दिनेश कोटवार, होगी अनुशासनात्मक कार्यवाही

कटनी। कलेक्टर अवि प्रसाद के निर्देश पर अनुसूचित जनजाति पोस्ट मेट्रिक छात्रावास खिरहनी की बुधवार को आकस्मिक जांच की गई। जांच के दौरान लापरवाही मिलने के बाद छात्रावास अधीक्षक को प्रभार से हटा दिया गया। कलेक्टर ने लापरवाह अधीक्षक के विरूद्ध कड़ी अनुशासनात्मक कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।
जिला संयोजक पूजा द्विवेदी द्वारा की गई जांच में छात्रावास अधीक्षक दिनेश कोटवार उपस्थित मिले, लेकिन निरीक्षण के दौरान मजदूरी पर कार्यरत दो मजदूर कर्मचारी छात्रावास से गायब मिले। साथ ही छात्रों द्वारा बताया गया कि अधीक्षक श्री कोटवार द्वारा समय पर भोजन नहीं दिया जाता है साथ ही छात्रावास की अन्य व्यवस्था के बारे में भी कुछ नहीं किया जाता है। कलेक्टर के निर्देश पर छात्रावास के किए गये निरीक्षण के बाद दिनेश कोटवार को तत्काल छात्रावास अधीक्षक के प्रभार से मुक्त करते हुए अनुसूचित जनजाति पोस्ट मेट्रिक छात्रावास खिरहनी के अधीक्षक का दायित्व अब अखिलेश मेहरा को सौंप दिया गया है।
दरअसल पर हाल ही में छात्रावास अधीक्षक दिनेश कोटवार के विरूद्ध छात्रावास के छात्रों द्वारा कलेक्टर अवि प्रसाद से शिकायत की गई थी। कलेक्टर ने छात्रों की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जिला संयोजक जनजातीय कार्य विभाग को जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए थे। इसी तारतम्य में जिला संयोजक ने छात्रावास पहुंचकर पंचनामा बनाया और बयान दर्ज किया। इसके बाद श्री कोटवार को तत्काल अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रावास खिरहनी का संपूर्ण प्रभार मय दस्तावेज एवं टेबलेट के अखिलेश मेहरा को सौंपने का निर्देश दिया गया। जांच प्रतिवेदन और पंचनामा का अवलोकन करने के बाद कलेक्टर ने अनुशासनात्मक कार्यवाही करने का निर्देश दिया है।