स्कूल या दुकान – मजाक बना शिक्षा का मंदिर , मान्यता पर सवाल

Scn news india

आमीन खांन फतेहपुर / स्वामी सींग दमोह

फतेहपुर में संचालित एक निजी स्कूल को देख ये अंदाजा लगा पाना मुश्किल हो जाएगा की ये स्कूल  है या कोई दूकान ।  किस कदर शिक्षा के मंदिर का मजाक उड़ाया  जा रहा है ये देखते बनता है।  ना ही स्कूल के पास बच्चों के लिए खेल का मैदान है , ना ही  उचित बैठने की व्यवस्था , और ना ही शौचालय की व्यवस्था , अन्य सुरक्षा सम्बन्धी सुविधाओं की तो बात ही करना बेमानी होगा। सबसे बड़ी बात की ये स्कूल CBSC पैटर्न के नाम से संचालित किये जा रहे है। जिन्हे देख शिक्षा विभाग द्वारा  मान्यता प्रदान करना भी सवालों के कटघरे में आता है।

मामला बटियागढ ब्लाक के संकुल केंद्र मगरोन के अंतर्गत जन शिक्षा केंद्र फतेहपुर का है ,जहाँ पर फतेहपुर मे अनेक निजी स्कूलो का संचालन किया जा रहा है। ये निजी स्कूल जहाँ चाहे वहां खोल दिये जाते है,  चाहे बैठक हेतु बच्चो को सुविधा हो या नही ,बच्चो के लिए खेल मैदान हो या न हो, बच्चो के लिए शौच करने के लिए शौचालय हो या न हो ,बस निजी संचालको को तो मोटी कमाई से मतलब  है।

वही बटियागढ व दमोह के शिक्षा विभाग के अधिकारियो पर भी सवाल खड़े होते है , कि  जहाँ स्कूलों के संचालन हेतु शासन द्वारा निर्धारित मापदंडों के विपरीत कैसे निजी संकूल संचालको को स्वीकृति दी जाती है , लगता है कार्यालय में बैठकर ही या कमीशन लेकर स्वीकृति दे दी  जाती  होगी।  या फिर इन स्कूलों बिना अनुमति ही संचालित किया जाता होगा।  दोनों ही परिस्थिति छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ है।

फतेहपुर का  एक निजी स्कूल जो दूकान में लगे बोर्ड अनुसार  – निताई ग्रुप द्वारा संचालित , गौरंग पब्लिक स्कूल  फतेहपुर,  संचालक प्रकाश पटेल अंकित है।  जहाँ बच्चो को शटर दुकान के कमरो मे बैठा कर  पढाया जा रहा है, बच्चो को शौच करने के लिए शौचालय नही है , बच्चे खुले मे शौच करने विवश है। गौरांग पब्लिक स्कूल फतेहपुर मे बच्चो को पढा रहे।

शिक्षक कौशल प्रसाद पटेल ने बताया कि गौरंग पब्लिक स्कूल फतेहपुर में बच्चों के लिए शौचालय की व्यवस्था नहीं है , जिस कारण बच्चे खुले में शौच कर रहे हैं , यह स्कूल प्रकाश पटेल रसीलपुर द्वारा संचालित किया जा रहा है इस स्कूल में मात्र कुल 13 बच्चो के नाम दर्ज है।

इनका कहना है
मुझे इसकी जानकारी नहीं है स्कूल की स्वीकृति किसने दी है मैं जानकारी लेता हूं और अभी स्कूल जाकर देखता हूं !

भूपेंद्र सिंह राजपूत , जन शिक्षक जन शिक्षा केंद्र,  फतेहपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

"scn news india"copyright'-2007-2020-(स्वामित्व/संपादक-राजेंद्र वंत्रप, चैनल हेड-हर्षिता वंत्रप,Registerd MP08D0011464 /63122/ 2019 /WEB)   'scnnewsindia@gmail.com