महामहिम का अपमान समूचे देश तथा आदिवासी समाज और महिलाओं का अपमान है: दीपक सोनी टण्डन

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

राष्ट्रपति के खिलाफ टीएमसी नेता की अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में अजजा मोर्चा के नेतृत्व में भाजपा ने फूंका ममता सरकार के मंत्री का पुतला

कटनी। पश्चिम बंगाल की टीएमसी सरकार के मंत्री अखिल गिरी द्वारा माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को लेकर की गई अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में आज कटनी अनुसूचित जनजातीय मोर्चा की अगुवाई में सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने ममता सरकार के मंत्री अखिल गिरी का पुतला दहन कर विरोध दर्ज किया गया। अजजा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कहा कि टीएमसी नेता अखिल गिरि ने देश के राष्ट्रपति के ऊपर जिस तरीके से अभद्र टिप्पणी की है, वह देश और जनजातीय समुदाय का अपमान है। मोर्चा नेताओं ने कहा कि ममता बनर्जी ऐसे मंत्री को तुरंत बर्खास्त करें और देश से माफी मांगनी चाहिए। भाजपा जिलाध्यक्ष दीपक सोनी टण्डन ने कहा कि यह न सिर्फ एक महिला का अपमान है वरन देश का भी अपमान है जिस सर्वोच्च पद पर श्रीमती मुर्मू विराजमान हैं वह देश के लिए गौरव है उनका अपमान देश के आदिवासी समाज का अपमान है। जिसके लिए अखिल गिरी को तत्काल बर्खास्त किया जाए। पुतला दहन के पूर्व भाजपा कार्यक्रताओं ने जमकर नारेबाजी की। इसके बाद तहसीलदार को राष्ट्रपति जी के नाम से ज्ञापन दिया गया। अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष राजेंद्र कोल ने कहा कि अगर मंत्री पर कार्रवाई नहीं होती तो जनजाति समाज तीव्र आंदोलन करेगा। पुतला दहन के साथ उन पर एफआईआर की मांग भी की।
इस अवसर पर जिला अध्यक्ष दीपक सोनी टण्डन, महामंत्री चेतन हिंदूजा, राजेन्द्र कोल, मृदुल द्विवेदी, भावना सिंह, अंकिता तिवारी, नीरा सेठिया, सत्यनारायण अग्रहरी, सत्यव्रत त्रिपाठी, मृदुल मिश्रा, शिवम शर्मा, अभिषेक ताम्रकार, मनीष दुबे, वागीश आनंद, संदीप दुबे, गोविंद सिंह, अम्बरीष वर्मा, आशुतोष शुक्ला, यज्ञदत मिश्रा, मिट्ठूलाल जैन, सचिन तिवारी, सौरभ अग्रवाल, अनंत उरमलिया, नवीन मोटवानी, मनीष त्रिसोलिया, अक्षय श्रीवास्तव,सुमित जायसवाल,आशु पटवा, पारस जैन, राघवेंद्र खरे, भावेश रजक, आशीष मिश्रा, शांतनु दत्ता, अशोक मखीजा, मंटू गुप्ता, अरसद मंसूरी, अज्जू सोनी, इंद्र मिश्रा, अजित दुबे, ब्रजपाल सिंह, अमित राजा शर्मा, पार्थ दुबे, विनय नागवंशी, हितेश बिलैया, शुभम सोनी, नानक डोडानी, हर्ष गौतम, अरशिव सेन, आलोक तिवारी, सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।