शिक्षा विभाग का नहीं है इस ओर ध्यान अधूरा पड़ा कोर्स अगले माह परीक्षाएं

Scn news india

आमीन खांन / स्वामी सींग दमोह
दमोह – दमोह जनपद पंचायत अंतर्गत रियाना गांव के शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय में शिक्षकों का अभाव है जहां रियाना गांव के मिडिल स्कूल में 85 विद्यार्थी पड़ते हैं जहां गणित,विज्ञान,शिक्षक गनेश तिवारी पढ़ाते हैं और हिन्दी,संस्कृत,सामाजिक विज्ञान अशोक पाठक पढ़ाते हैं वहीं अशोक पाठक जी से इस संबंध में बात की तो उन्होंने बताया कि हम मुड़ारी स्कूल में पदस्थ है।

लेकिन रियाना स्कूल में शिक्षक न होने की बजाय से में यहां का कार्य भार संभाले हुए है तो वहीं स्कूली बच्चे आरती ठाकुर,सरस्वती ठाकुर,सुनील ठाकुर,लोकेंद्र ठाकुर ने बताया कि परीक्षा एक महीने बाद हैं लेकिन इंग्लिश विषय के टीचर न होने की बजय से अंग्रेजी का कोर्स बिल्कुल नहीं हुआ है जो कि चिंता का विषय बना हुआ है तो वहीं दमोह बी आर सी के आला अधिकारी मौन हैं पूर्व में भी इस खबर को प्रकाशित किया गया था और ग्रामीण नितेश सिंह ठाकुर ने बी आर सी को अवगत कराया था लेकिन बी आर सी रमेश अठया के सुस्त रवैए से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है ग्रामीण क्षेत्रों के 25 फ़ीसदी स्कूलों का हाल इसी तरह बना हुआ हैं जिसमें शिक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है यही वजह है कि सरकारी स्कूलों के बच्चे उच्च शिक्षा पाने से वंचित रह जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.