एक शिक्षक के प्रति ग्रामीणों का प्यार एवं स्नेह प्रेरणादाई -जैसवाल शाला परिवार एवं ग्राम वासियों ने सेवानिवृत गुरुजी को दी भावभीनी विदाई

Scn news india

धनराज साहू तहसील ब्यूरों

भैंसदेही- विकास खंड के प्राथमिक शाला चोपन में पदस्थ सहायक शिक्षक दिलीप कुमार कडूकर के विगत 31 अक्टूबर 2022 को 35 वर्ष 9 माह की सफलतम सेवा पश्चात सेवा निवृत होने के उपलक्ष्य में शाला परिवार एवं ग्रामीणों द्वारा श्री कडूकर को संयुक्त रूप से प्राथमिक शाला चोपन के प्रांगण में विकास खंड शिक्षा अधिकारी श्री जी सी सिंह के मुख्य आतिथ्य में समारोह पूर्वक सेवा निवृत्ति विदाई कार्यक्रम आयोजित कर उन्हे भाव भीनी विदाई दी।

कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के छाया चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण कर सरस्वती वंदना से किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों, गणमान्य नागरिकों एवं शिक्षकों ने सेवा निवृत शिक्षक का पुष्प माला से स्वागत किया तथा उन्हें शाल श्रीफल एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संकुल प्राचार्य श्री संदीप राठौर ने श्री कडूकार जी के कार्यकाल की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने 35 वर्ष 9माह की सफलतम सेवा देते हुए आज इस विद्यालय से सेवा निवृत हो रहे हैं, मैं उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूं।

राज्य कर्मचारी संघ के संभागीय कोषाध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि एक शिक्षक के प्रति गांव के लोगो का प्यार एवं स्नेह प्रेरणादाई हैं। मैं ग्रामीणों को साधुवाद देता हूं। मध्यप्रदेश शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष नारायणराव लोखंडे,अध्यापक संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष विजय कुमार पटैया,संयुक्त मोर्चा के ब्लॉक अध्यक्ष शंकु सिंह मोहने , कृष्णराव खासदेव,बाबूलाल राठौर ने उनके कार्यकाल को यादगार बताते हुए , उनके उत्तम स्वास्थ्य एवं सुखमय जीवन के साथ उज्जवल भविष्य की कामना की। अज्जाक्स तहसील अध्यक्ष श्रीराम भुस्कुटे ने इस अवसर पर कहा कि श्री कडुकार सर बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं जिन्होंने शिक्षकीय दायित्वों के साथ साथ विकास खंड के प्रभारी योग शिक्षक ,मास्टर ट्रेनर्स,हास्य कवि,एवं विकास खंड स्तर पर आयोजित होने वाले राष्ट्रीय पर्वों,एवं कार्यक्रमों का सफल संचालन का दायित्व भी बखूबी निभाया।विकास खंड शिक्षा अधिकारी श्री जी सी सिंह ने श्री कडूकार के कार्यकाल को सराहनीय एवं अनुकरणीय बताते हुए कहा कि मेरे कार्यकाल में मैं यह पहली अविस्मरणीय विदाई समारोह देख रहा हूं।

जिसका आयोजन ग्राम चोपन के पूरे समुदाय एवं शाला परिवार के द्वारा संयुक्त रूप से हर्षों उल्लास एवं पारंपरिक सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं सामूहिक भोज के साथ किया गया जो सराहनीय है। जिसमे विकास खंड के शिक्षकगण एवं विभिन्न कर्मचारी संगठनो के पदाधिकारी तथा पूरा गांव शामिल हुआ। इस अवसर पर सेवा निवृत शिक्षक दिलीप कुमार कडूकार ने कहा कि गुणवतापूर्ण शिक्षा के लिए समुदाय की सक्रिय भागीदारी जरूरी है। विदाई कार्यक्रम के आयोजन में ग्रामीणों एवं शाला परिवार के प्यार एवं स्नेह को कभी भुला नही पाऊंगा।

मुझे अपने कार्यकाल में आपका जो सहयोग,स्नेह मिला उसके लिए मैं आप सभी का सदैव आभारी रहूंगा।कार्यक्रम का सफल संचालन शिक्षक कैलाश कानडे एवं आभार प्रदर्शन प्रभारी प्रधान पाठक संजय दवंडे ने किया। अंत मे सभी ने एक साथ सुरुचि भोज का आनंद लिया।कार्यक्रम समाप्ति पश्चात सेवा निवृत शिक्षक श्री दिलीप कडूकार को खुली जीप में ग्रामीणों एवं साथी शिक्षकों ने डीजे की धुन पर नाचते गाते हुए पूरे गांव में घुमाया जहा ग्रामीणों ने अपने घरों के सामने रंगोली डालकर अपने गुरुजी को तिलक कर श्रीफल भेंटकर सम्मानित करते हुए अपनी भावभीनी विदाई दी। तथा कर्म भूमि से गृह नगर भैंसदेही तक पारंपरिक वेश भूषा के साथ नाचते गाते हुए घर तक छोड़ा। कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रभारी प्रधान पाठक संजय दवडे,सुनील बोडखे ,शाला प्रबंधन समिति,स्कूली बच्चों सहित ग्रामीणों का सराहनीय सहयोग रहा।