मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कानून-व्यवस्था पर बुलाई आपात बैठक

Scn news india

मनोहर

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कानून-व्यवस्था की स्थिति पर मुख्यमंत्री निवास में सुबह आपात बैठक बुलाई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर, भोपाल, बैतूल और गुना में हुई घटनाओं पर अधिकारियों से वर्चुअली जानकारी प्राप्त की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर में वैशाली ठक्कर द्वारा आत्म-हत्या के प्रकरण में दोषियों पर अब तक की गई कार्रवाई की जानकारी ली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इसे घृणित और दर्दनाक बताया। उन्होंने दोषियों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। बताया गया कि दोषियों के विरूद्ध इनाम घोषित किया गया है। साथ ही लुकआउट नोटिस जारी कर देश के सभी विमानतलों को सूचना दी गई है। दोषियों की तलाश में देश के अलग-अलग शहरों में टीमें रवाना की गई हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर में एडीएम द्वारा दिव्यांग से दुर्व्यवहार को घोर आपत्तिजनक तथा दुर्भाग्यपूर्ण मानते हुए एडीएम श्री पवन जैन को तत्काल हटा कर भोपाल संबद्ध करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जन-सुनवाई में किसी के भी साथ दुर्व्यवहार आपत्तिजनक है। अधिकारियों का जन-सामान्य से संयम और धैर्य के साथ संवाद आवश्यक है। समस्याओं के समाधान में सकारात्मक रवैया होना चाहिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैतूल में बढ़ रही चोरियों पर कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक से जानकारी ली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गश्त बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा कि जन-सामान्य में सुरक्षा का भाव बने रहना आवश्यक है। सामान्यजन यह अनुभव करें कि पुलिस हर कठिनाई में उनके साथ है। गुना में मनचले से परेशान होकर किशोरी द्वारा पढ़ाई छोड़ने की घटना के संबंध में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मनचलों के विरूद्ध अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बेटियों को भयमुक्त वातावरण देने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बेटियों से जुड़ी इस प्रकार की घटनाओं में अतिरिक्त संवदेनशीलता आवश्यक है। पुलिस, बालिकाओं और उनके अभिभावकों से सतत् संवाद में रहे तथा परस्पर विश्वास के संबंध विकसित करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल के न्यू मार्केट में हुई घटना की जानकारी भी लेकर सिटी बसों में सुरक्षित परिवहन सुनिश्चित करने आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए।