सरदार पटेल स्कूल ऑफ नर्सिंग खैरी मंडला में जले दीपक एक दीप हिंदी के नाम मध्य प्रदेश में पहली बार

Scn news india

योगेश चौरसिया जिला ब्यूरो 
मध्य प्रदेश में पहली बार मेडिकल पाठ्यक्रमों को हिंदी माध्यम में पढ़ाने का निर्णय लिया गया है जिसके तरतम्मा में शासन के निर्देशानुसार एवं कलेक्टर शासन के निर्देशानुसार एवं कलेक्टर मंडला के आदेश अनुसार सरदार पटेल स्कूल ऑफ नर्सिंग खैरी मंडला में दोपहर 12:00 बजे मेडिकल छात्राओं की सभा का आयोजन किया गया जिसमें छात्र छात्राओं को मेडिकल पाठ्यक्रम को हिंदी में पढ़ाई जाने की जानकारी प्रदान की गई।

वही शाम 6:00 बजे महाविद्यालय में एसडीएम मंडला की मुख्य अतिथि में एक दीपक हिंदी के नाम थीम पर महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं एवं स्टाफ के द्वारा दीप प्रज्वलित किए गए इस अवसर पर एसडीएम मंडला ने स्टूडेंट को संबोधित करते हुए कहा किस्टूडेंट को संबोधित करते हुए कहा कि बहुत हर्ष का विषय है कि मेडिकल जैसी कठिन पढ़ाई भी अब हिंदी में कराई जाएगी जिससे हमारे जिले की छात्र-छात्राओं को पढ़ाई में सरलता होगी महाविद्यालय में अध्ययनरत नर्सिंग के छात्र छात्राओं को उनकी प्रोफेशन के बारे में समझाया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

उनकी प्रोफेशन के बारे में समझाया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की साथ ही पूर्ण समर्पण से अपने कार्य को करने की शपथ भी दिलाई भगवन के बाद डॉक्टर्स और नर्स का ही दर्जा है इसलिए शासन ने आपकी पढ़ाई को सरल बनाने के लिए आज से पाठ्यक्रम को हिंदी में कर दिया है कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन सरदार पटेल स्कूल ऑफ नर्सिंग के प्रशासनिक अधिकारी आशीष ज्योतिषी ने किया कार्यक्रम में समस्त नर्सिंग स्टाफ एवं बहुत संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे जो अत्यंत उत्साहित दिखे।