मरार समाज ने समाज के मेधावी छात्रों एवं कर्मचारियों का किया सम्मान

Scn news india

ओमकार पटेल 

मरार समाज चिखली सर्किल के सौजन्य से ग्राम चिखली में मेधावी छात्र-छात्राओं एवं मंडला जिला के शासकीय तथा अशासकीय कर्मचारियों का सम्मान समारोह एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया । कार्यक्रम का शुभारम्भ महात्मा ज्योतिबा फुले एवम् माता सावित्री बाई फुले की प्रतिमा का पूजन एवं माल्यार्पण कर किया गया। मंच में विराजमान अतिथिओं को तिलक लगाकर एवं फूलमाला पहनाकर तथा बैज लगाकर स्वागत एवम् सम्मान किया गया। गायन और वादन से महफ़िल सजती रही, जिसका सभी लोग लुफ़्त उठाते रहे।

आनंदमय वातावरण के बीच चिखली गांव की दशा रमणीय लग रही थी। ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे मंडला जिला के मरार समाज का कोई त्यौहार चल रहा हो और सब यहां उत्सव मनाने आए हों। मानो यहां सुर और ताल की धारा बह रही हो। यहां पधारकर हर कोई अपने आप में गौरवान्वित महसूस कर रहा था। कर्मचारियों को लेखन डायरी एवं पेन भेंट कर सम्मानित किया गया। 17 मेधावी छात्रों को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिह्न देकर प्रोत्साहित किया गया। छात्रों को उनकी इस उपलब्धि के लिए सभी ने अपने उद्बोधन के द्वारा उत्साह बढ़ाया। तथा सतत् लगन एवं मेहनत से पढ़ने की सलाह के रूप में आशीर्वाद प्रदान किए। एवं इतना विशाल और प्रेरणास्पद आयोजन के लिए चिखली सर्किल के अध्यक्ष श्री गोपाल प्रसाद पंचेश्वर जी की, एवं उनकी पूरी टीम की प्रशंसा कर मनोबल को बढ़ाए। समय अभाव के कारण कार्यक्रम के अंत में , समाज के शुभचिंतक, प्रगतिशील समाज की स्थापना में सतत् लगे रहने वाले, हम सब के चहेते एवं शिक्षा तथा रोज़गार की अलख जगाने वाले, आदरणीय शिक्षक श्री प्रेम गिरधारी भांवरे जी का उद्बोधन जैसे ही प्रारंभ हुआ सारी सभा एकदम शांत हो गई। सभा के लोग पूरी तरह मंत्रमुग्ध होकर बातों को सुनते जा रहे थे। बीच बीच में तालियों की गड़गड़ाहट गूंजती रही, आपके भाषण ने सभा का दिल जीत लिया, कार्यक्रम में चार चांद लगा दिया, और महफिल को गदगद कर दिया। इस उद्बोधन से ऐसा लग रहा था मानों ऊर्जा से भरपूर प्रवचन चल रहा हो। कुछ लोगों ने तो उनके भाषण को सुनकर शिक्षक भाई प्रेम सर को पुरस्कार भी दिए।

दिव्य मंच को पांच घंटे तक सफल संचालन करने वाले डॉक्टर धनलाल कावरे जी, एवं शैल कुमार पंचेश्वर जी, आपने अपने प्रखरित मुखारविंद से लोगों का मनोरंजन करते रहे तथा सभी रसों की वर्षा करके लोगों में स्थायित्व बनाए रखा। तत्पश्चात कार्यक्रम के अध्यक्ष श्री गोपाल प्रसाद पंचेश्वर जी सभी का आभार प्रकट करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।

कार्यक्रम में मंचासीन अतिथियों का नाम इस प्रकार है ।
जिला अध्यक्ष श्री बजारी लाल भांवरे जी, जिला सचिव श्री भागवत भांवरे जी, भूतपूर्व जिला अध्यक्ष श्री रामूलाल पंचेश्वर जी, समाज के वरिष्ठ श्री भोलाराम भांवरे जी, सचिव कोमल कांवरे जी, इंद्री सर्किल अध्यक्ष नंदकिशोर भांवरे जी, जामगांव सर्किल अध्यक्ष भारत लाल भोरिया जी, समाज हित में निरंतर चिंतनशील श्री प्रेम भांवरे जी शिक्षक आमाडोंगरी, श्री राम भगत भांवरे जी उपसरपंच चंदवारा, श्री बिहारीलाल पंचेश्वर जी, श्री गिरधारी लाल जी उपसरपंच, श्री रामेश्वर खेरवार जी नकावल उपसरपंच, रवि राम भोरिया जी लव-कुश मंदिर अध्यक्ष, नवनिर्वाचित जामगांव सर्किल अध्यक्ष श्री राजेश खरे जी, श्री दिमाकू लाल जी , निरंजन भावरे जी कछारी, श्री गणेश मानेश्वर जी पंचायत सचिव खखरी टोला , शारदा भांवरे जी कछारी, डॉ सुनील भांवरे जी, विमल भांवरे जी, श्री हेमराज भोरिया जी सर्किल सचिव जामगांव। मातृशक्ति में मंचासीन श्रीमती मंजू बाई बिलगांव, लक्ष्मी बाई ग्राम चंदवारा, विमलाबाई ग्राम गढ़ी, गिरिजाबाई कावरे ग्राम चिकली, आरती दुर्गेश जनपद सदस्य नकावल, रामकली खेरवार नकावल, आदि उपस्थित रहे।

इस विशाल कार्यक्रम के आयोजक
चिखली सर्किल के जुझारू और लगनशील अध्यक्ष श्री गोपाल प्रसाद पंचेश्वर जी, उपाध्यक्ष श्री राधेलाल जी राम सिंह पंचेश्वर, होनहार सचिव श्री राजेश भांवरे जी, कोषाध्यक्ष श्री अशोक भांवरे जी, सह सचिव श्री रतनलाल जी, एवं ग्राम अध्यक्ष चिखली अनंतराम भावरे जी, सेखुलाल जी चंदवारा , कमलेश भावरे खिरहनी, अर्जुन कांवरे बिलगांव, राम ब्रिज बिलगांव, मुन्नालाल कसौटा, पुन्नूलाल नकावल, राधेलाल कांवरे मुंगली आदि कार्यकर्ताओं ने इस कार्यक्रम के सूत्रधार रहे।

दिन रात मेहनत कर कार्यक्रम मैं सहयोग करने वाले ग्राम चिकली के नवयुवक संघ
रामकिशोर कावरे, कमलेश , योगेंद्र भावरे, मुकेश पंचेश्वर, चंद्रकांत भावरे, गगन कावरे, गौतम पंचेश्वर, धानु लाल कावरे, सुनील पंचेश्वर, पवन कावरे, बृजेंद्र पंचेश्वर, प्रमोद पंचेश्वर, लोक राम कावरे, नर्मदा, सुरेश भाई, गंगाराम, राहुल कावरे, दिनेश पंचेश्वर, राम सिंह पंचेश्वर, अनिल राजेश्वर, रामकिशन पंजरिया, एवं समस्त ग्राम वासी चिखली टोला।