महामहिम राज्यपाल के नाम अतिवृष्टि से खराब हुई फसलों के मुआवजे को लेकर रामू टेकाम के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने सौंपा ज्ञापन।

Scn news india

भैंसदेही से धनराज साहू की रिपोर्ट

शिवराज सरकार किसानों के साथ कर रही है भेदभाव-रामू टेकाम

 

आज भैंसदेही में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मध्यप्रदेश आदिवासी विकास परिषद युवा प्रभाग के प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि रामू टेकाम के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम तहसीलदार भैंसदेही श्री कालमेघ जी को अतिवृष्टि से बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा दिए जाने सहित अन्य मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन के माध्यम से बताया कि अतिवर्षा के कारण भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र के भैंसदेही,आठनेर एवं भीमपुर ब्लाक में फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गई है।
पटवारी द्वारा सर्वे करवाकर जल्द से जल्द किसानों को बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा दिया जाए एवं मेंढा जलाशय के कई किसान जिनकी भूमि डूब क्षेत्र में गई है,जिन्हें मुआवजा नहीं मिल पाया है उन्हें मुआवजा एवं प्रोत्साहन राशि शीघ्र दिलवायी जाये तथा डेम की उचाई बड़ाई जाए और भैंसदेही ब्लॉक के किसानों को सिंचाई के लिए पानी दिया जाए।


किसानों को खेत मे जो रात में बिजली दी जाती हैं उन्हें बिजली दिन में दी जाए।
बिजली विभाग द्वारा उपभोक्ताओं को मनमाने तरीके से जो बिल दिए गए उसको वापस लिया जाए।
लम्पी वाइरस से मृतक मवेशियों का उचित मुआवजा दिलवाने के लिए प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि रामू टेकाम ने कहा कि भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र के कई इलाकों में अतिवृष्टि के कारण फसलें बर्बाद हो गई हैं, पककर तैयार फसल बर्बाद होने से अन्नदाता को गहरा आघात लगा है प्रदेश सरकार इस ओर कोई कदम नही उठा रही हैं।

अन्नदाताओं की सुध लेकर खराब हुई फसलों का उचित मुआवजा देकर उन्हें राहत दें, ये सरकार का नैतिक दायित्व है।
ज्ञापन सौंपते समय प्रमुख रूप से ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष विनयशंकर पाठक, कांग्रेस नेता रानू ठाकुर सेवादल अध्यक्ष, राहुल छत्रपाल, महेश थोटेकर, धनराज गावंडे, संजय मावसकर पूर्व जनपद अध्यक्ष, अकिंत सिंह तोमर,सुखदेव घानेकर, नारायण घानेकर, राजेन्द्र महाले,राज धाडसे, विजय भुस्कुटे,अफ़रोज़ भाई, , धर्मराज महाले, गजानन आठवेकर,कादर शाह, दिनेश दवंडे, अशोक अडलक,जयनाथ अडलक , निखिल सोनी, रमेश उइके, जयचंद सरियाम, सुभाष उइके,श्रीराम भलावी, गेंदराव आहके, पंजाब आहके, शिवपाल आठोले,आशिष परते, राजकुमार शाहू, अजय जितपुरे, प्रकाश कसरोदे, बब्लू आर्य, भगवंत लोखंडे, हरपाल, संदीप वरटी,मयुर बारस्कर, राजकुमार मर्सकोले, दलपत इवने, उमेश वर्टी , सुरेश उइके, विशाल परतें,अनोज करोचे राहुल उइके, जनक परतें, सहित वरिष्ठ कांग्रेसीगण एवं सभी प्रकोष्ठ के पदाधिकारी व कार्यकर्ता एवं बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।