सामाजिक कुरीतियां एवं भेदभाव त्यागकर हम शक्तिशाली देश के रूप में विकसित हो रहे हैं- विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे

Scn news india

राजेश साबले जिला ब्यूरो 

  • सामाजिक कुरीतियां एवं भेदभाव त्यागकर हम शक्तिशाली देश के रूप में विकसित हो रहे हैं- विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे
    बीस ग्रामीणों को अधिकार अभिलेख वितरित
    छावल में अस्पृश्यता निवारणार्थ सद्भावना शिविर आयोजित

बैतूल-विधायक आमला डॉ. योगेश पंडाग्रे ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हमें आजादी दिलाने के साथ-साथ समाज में फैली कुरीतियों को दूर करने का अनुकरणीय कार्य किया। उन्होंने समाज से अस्पृश्यता दूर करने का भी बीड़ा उठाया। साथ ही देश को स्वच्छता का संदेश दिया। उनके रास्ते पर चलकर आज सामाजिक कुरीतियां एवं भेदभाव त्याग कर हम शक्तिशाली देश के रूप में विकसित हो रहे हैं। हमारे गांव बेहतर स्वच्छता को प्रतिबिंबित कर रहे हैं। हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री को उनकी जयंती पर सादर नमन करते हैं।

डॉ. पंडाग्रे गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर रविवार को विकासखंड आमला के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय छावल में आयोजित अस्पृश्यता निवारणार्थ सद्भावना शिविर को संबोधित कर रहे थे। शिविर में कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस, जनपद अध्यक्ष आमला श्री गणेश यादव, उपाध्यक्ष श्री किशन सिंह रघुवंशी, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती देवकी हरि यादव एवं श्रीमती अनिता मर्सकोले, सरपंच श्री राजू कापसे, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्रीमती शिल्पा जैन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।


डॉ. पंडाग्रे ने आगे कहा कि  सरकार द्वारा प्रदेश के गांवों के आबादी क्षेत्रों में संपत्ति सर्वेक्षण अभियान प्रारंभ किया गया है। भारत सरकार की स्वामित्व योजना के अंतर्गत शुरू किए गए इस सर्वेक्षण का उद्देश्य नक्शे के आधार पर संपत्ति के मालिकाना हक का सरकारी दस्तावेज तैयार करना है। गांवों का आबादी नक्शा तैयार करने का काम ड्रोन कैमरे के प्रयोग से किया जा रहा है। इस योजना से जहां ग्रामीण लोगों की संपत्ति का सरकारी रिकार्ड तैयार होगा, वहीं ग्राम पंचायतों को संपत्तियों की स्पष्ट और सटीक जानकारी उपलब्ध होगी। ग्रामीण रहवासियों को अपनी संपत्ति के हक का सरकार दस्तावेज उपलब्ध होने से उन्हें अपनी संपत्ति बेचने में आसानी होगी और वे बैंक से ऋण प्राप्त करने की सुविधा का लाभ भी ले सकते हैं। इस शिविर के माध्यम से ग्रामीणों को स्वामित्व योजना के तहत उनके अधिकार अभिलेख सौंपे जा रहे हैं।


शिविर में विधायक डॉ. पंडाग्रे, कलेक्टर श्री बैंस सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा बीस ग्रामीणों को ग्रामीण आबादी संपत्ति सर्वेक्षण अभियान अंतर्गत स्वामित्व योजना के अधिकार अभिलेख सौंपे गए। साथ ही अस्पृश्यता समाज पर कलंक विषय पर आयोजित भाषण एवं निबंध प्रतियोगिता में विजेता छ: छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया। इसके अलावा वरिष्ठ नागरिकों को भी शाल-श्रीफल से अतिथियों ने सम्मानित किया। शिविर में विभागीय अधिकारियों द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग के हितार्थ चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी जानकारी दी गई।
शिविर के अंत में सहभोज आयोजित किया गया, जिसमें जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों एवं समाज के सभी वर्ग के लोगों ने एक साथ बैठकर भोजन किया।