खदान श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा हेतु वित्तीय सहायता योजना में आवेदन आमंत्रित

Scn news india

मनोहर

प्रदेश के बीड़ी, चूना पत्थर एवं डोलोमाईट, लौह-मैग्नीज-क्रोम और अयस्क खदान श्रमिकों के अध्ययनरत बच्चों को शैक्षणिक वर्ष 2022-23 के लिए वित्तीय सहायता योजना में आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इन श्रमिकों के मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थाओं में अध्ययनरत पुत्र-पुत्रियों को कक्षा 1 से उच्च शिक्षा ग्रहण करने पर छात्रवृत्ति और गणवेश के लिये एक हजार से अधिकतम 25 हजार रूपये स्वीकृत की जाती है। योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए छात्र-छात्राओं को नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (https://scholarship.gov.in) पर आनलाईन आवेदन करना होगा। प्री-मेट्रिक के लिए 30 सितम्बर और पोस्ट-मेट्रिक के लिए 31 अक्टूबर 2022 अंतिम तिथि निर्धारित की गई है।

नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन करने, पात्रता की जानकारी एवं शर्तें ऑनलाईन प्रदर्शित हैं। ऑनलाईन आवेदन के साथ संलग्न किए जाने वाले दस्तावेज स्वच्छ एवं पठनीय हों। आवेदन करने के बाद अध्ययनरत शिक्षण संस्थान से सम्पर्क स्थापित कर अपने आवेदन को ऑनलाईन सत्यापन करवा कर स्कॉलरशिप पोर्टल (https://scholarship.gov.in) से अग्रेषित करवाना जरूरी है। आवेदन के सत्यापन कराए जाने की जिम्मेवारी विद्यार्थियों की होगी। पोर्टल में प्रदर्शित अन्य विभागों द्वारा छात्रवृत्ति हेतु अधिक राशि प्रदान की जाती है, तो ऐसे आवेदक संबंधित विभाग की छात्रवृत्ति हेतु आवेदन कर सकते हैं।

ऑनलाईन आवेदन करने संबंधी अन्य किसी भी प्रकार की समस्या के निदान हेतु जबलपुर मुख्यालयe-mail wcjab@mp.gov.in पर संपर्क किया जा सकता है। मध्यप्रदेश परिक्षेत्र में संचालित अपने नजदीकी औषधालय और चिकित्सालयों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी अथवा वैद्य प्रभारी से भी व्यक्तिगत रूप से जानकारी प्राप्त की जा सकती है। निर्धारित तिथि के बाद प्राप्त होने वाले आवेदनों एवं संस्थान द्वारा सत्यापित नहीं किए गए आवेदनों पर विचार नहीं होगा।

कल्याण आयुक्त द्वारा सभी इंस्टिट्यूट नोडल ऑफिसर (INO) एवं शैक्षणिक संस्थान प्रमुखों से कहा है वे अपनी शैक्षणिक संस्थान में लंबित सभी आवेदनों को त्वरित सत्यापित करें एवं योजना के पात्र अधिक से अधिक विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति योजना में सम्मिलित होने हेतु प्रोत्साहित भी करें।