अचानक 60 छात्राएं बीमार,सुर्खियों में एकलव्य आदर्श विद्यालय

Scn news india

राजेश साबले जिला ब्यूरो  

अपनी कार्यशैली को लेकर एकलव्य आदर्श विद्यालय सुर्खियों में है। चिचोली जोगली स्थित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में अचानक ही 60 छात्राएं बीमार हो गए। छात्राओं को बुखार, अचानक ही घबराहट और दिक्कत आने की शिकायत हुई। जयस कार्यकर्ता ने छात्राओं को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया।कम मात्रा में दिया जा रहा था भोजनअपनी कार्यशैली को लेकर एकलव्य आदर्श विद्यालय सुर्खियों में है। चिचोली जोगली स्थित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में अचानक ही 60 से अधिक छात्राएं बीमार हो गर्ईं। जनपद सदस्य सुरेन्द्र करोचे ने बताया कि समय पर भोजन एव भोजन मात्रा कम मिलने ज्यादातर बच्चे बीमार हुए हैं। नाश्ता के नाम पर सुखा मुरमुरा दिया जा रहा है।सप्ताह में एक दिन मिलती है चायसप्ताह में एक दिन चाय दी जाती है। बुखार एवं घबराहट से बीमार छात्राओं को स्थानीय आदर्श विद्यालय में बड़ी संख्या में बीमार बच्चों की जानकारी लगते ही जयस संगठन के जिला अध्यक्ष संदीप धुर्वे, ब्लॉक अध्यक्ष सुरेंद्र कुमारे, सुनील करोचे, राजकुमार उईके, पवन परते,नोमेश शाहने बीमार छात्राओं को निजी वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जिसमें कुछ बच्चों की हालत ज्यादा गंभीर थी उन्होंने आदर्श एकलव्य विद्यालय में बीमार बच्चों की जानकारी जिला कलेक्टर एवं आदिम जाति कल्याण विभाग की एसी शिल्पा जैन को दी।व्यवस्था पर खड़े किए सवाल
संदीप धुर्वे ने आदर्श एकलव्य विद्यालय की व्यवस्था को लेकर सवाल खड़ेे किए गए हैं। एक छात्रा को स्कूल में ही बेहोश हो गई। स्कूल में अचानक छात्राओं से व्यवस्था की जानकारी ली। आदर्श एकलव्य छात्रावास में 350 से अधिक छात्र एवं छात्राएं भर्ती हैं। हाल ही में विकासखंड के ग्राम जोगली में करोड़ो की लागत से आदर्श विद्यालय एवं छात्रावास बनाया गया है लेकिन इस मार्ग पर सडक़ नहीं होने से पालको विद्यार्थियों को पहुंचने में भारी असुविधा का सामना करना पड़ता है बारिश के दिनों में इस सडक़ पर चलना मुश्किल हो गया है50 से अधिक बच्चे मिले बीमार
बीएमओ डॉ राजेश अतुलकर ने बताया कि सोमवार को स्वास्थ विभाग की टीम आदर्श एकलव्य विद्यालय अध्ययनरत छात्र छात्राओं के स्वास्थ्य की जांच करने पहुंची थी जिसमें 50 से अधिक बच्चे सामान्य तौर पर बीमार मिले जिनका प्रारंभिक उपचार किया जा रहा है।