सीजर के दौरान महिला की मौत, परिजन कलेक्ट्रेट लेकर पहुंचे शव, कलेक्टर ने दिया जांच का आश्वासन

Scn news india

राजेश साबले जिला ब्यूरो 
बैतूल – एक महिला की सीजर के दौरान मौत हो गई। महिला के परिजन शव लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे और कलेक्टर से शिकायत की। इस मामले में कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस ने जांच किए जाने का आश्वासन दिया है। इसके बाद परिजन शव लेकर गंतव्य की ओर रवाना हो गए।प्राप्त जानकारी के अनुसार सारनी निवासी दीपिका पति जयसिंह तोमर (26) को प्रसव पीड़ा होने पर पहले घोड़ाडोंगरी अस्पताल लेकर गए थे। यहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था। जिला अस्पताल में पहले प्रसव नार्मल होने की बात कही गई लेकिन इसके बाद कहा गया कि सीजर करना पड़ेगा।
जयसिंह तोमर ने बताया कि सीजन के लिए 5 हजार रुपए जमा करने की बात डॉ. वंदना धाकड़ ने कही। जयसिंह ने बताया कि उसके पास रुपए नहीं थे इसलिए उपचार भी शुरू नहीं किया गया। उन्होंने उधार लेकर पांच हजार रुपए दिए तब कहीं जाकर सीजर किया गया। लेकिन सीजर के बाद हालत बिगड़ गई इसके बाद पुन: दूसरा आपरेशन किया गया जिसके बाद दीपिका की मौत हो गई।इस मामले में मृतिका के पति जयसिंह ने डॉ. वंदना धाकड़ पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने 5 हजार रुपए के लिए उपचार शुरू नहीं किया जिससे हालत बिगड़ी। जब तक वह रुपए की व्यवस्था करके लाए तब तक बहुत देर हो चुकी थी। उन्होंने इस पूरे मामले की शिकायत कलेक्टर अमनबीर सिंह से की है। कलेक्टर ने भी इस मामले में जांच कराने का आश्वासन दिया है। कलेक्टर ने कहा कि तीन डॉक्टरों की पैनल द्वारा किए गए पोस्टमार्टम की 48 घंटे के भीतर रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्यवाही करेंगे।