लायन क्लब महक ने किया शिक्षकों का सम्मान

Scn news india
राजेश साबले जिला ब्यूरो 
बैतूल। लायंस क्लब बैतूल महक व्दारा शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने कार्य क्षेत्र में अपनी क्षमता से परे जाकर कार्य करने वाले शिक्षकों का सम्मान किया।
शिक्षक दिवस पर आयोजित समारोह में न केवल शिक्षा के क्षेत्र में अपितु शिक्षा से अलग अन्य क्षेत्रों जैसे अध्यात्म, चित्रकारी, योग, वादन और नृत्य के माध्यम से लोगों के बीच अध्यात्म, स्वस्थ एवं कला का अलख जगाने वाले गुरूओं का सम्मान किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए रक्तदान तथा पर्यावरण जागरूकता के क्षेत्र में अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले शिक्षक शैलेन्द्र बिहारिया ने कहा कि एक शिक्षक की छोटी सी गलती से भी देश का भविष्य खराब हो सकता है इसलिए शिक्षकों पर देश के भविष्य निर्माण की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। वहीं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एमजेएफ लायन पी एस बग्गा ने कहा कि मां प्रथम गुरू होती है जो बच्चों में अच्छे संस्कारों को विकसित करती है।
कार्यक्रम के विषय में बताते हुए लायन क्लब महक की अध्यक्ष लायन डाक्टर निहारिका भावसार ने कहा कि हालांकि की हमारे पूर्व राष्ट्रपति डा सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने अपना जन्मदिन शिक्षकों को समर्पित किया था लेकिन वर्तमान में शिक्षा से अलग अन्य क्षेत्रों में एक शिक्षक की भूमिका में कुछ लोग अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। महक टीम ने ऐसे ही शिक्षकों का सम्मान इस कार्यक्रम में किया है।
शिक्षक दिवस सम्मान समारोह में ब्रम्हकुमारी मंजू बहन, ब्रम्हकुमारी सुनीता बहन, हेमलता साहू, लता पारधे, अरूणा महाले, मनोरमा भारव्दाज, प्रीति साहू, मोनिका बैस, यश भोपते, वंदना दरवाई, धीरेन्द्र ठाकुर, दिनेश खांडेकर, संदीप अवहड़कर का सम्मान किया गया।
कार्यक्रम में प्रसिद्ध कथक नृत्यांगना मोनिका बैस ने कथक नृत्य की प्रस्तुति दी वहीं श्रीश्री ज्ञान मंदिर हमलापुर के बच्चों ने सुन्दर नृत्य व नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया।
समारोह में श्रीश्री ज्ञान मंदिर हमलापुर की प्राचार्य जयश्री शाह, लायंस क्लब सिटी के अध्यक्ष लायन प्रताप देशमुख, लायन सपना सोनी, लायन मधुबाला देशमुख, लायन कंचन आहूजा, लायन मंजुला पाठक, लायन तरूणा द्विवेदी, लायन अनामिका मालवीय,लायन दीपा जसूजा तथा श्रीश्री ज्ञान मंदिर हमलापुर के छात्र हनुमंत कुमरे, विनय राजपूत, जिया यादव,श्रुति लालदेव, सारिका लालदेव, वंदना आहाके, खुशी मवासे, दिशा उइके, मनीष धुर्वे, प्रतीक पोटफोडे, रेशमा सियार, करीना मर्सकोले, रूद्र परते उपस्थित रहे।