विधायक के हस्तक्षेप के बाद माधव नगर थाने में दर्ज हुई मजदूरों के साथ मारपीट और लूट की रिपोर्ट

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

कटनी । माधवनगर थाना अंतर्गत शुभ सिटी के पास से लेकर सुलभ कम्पलेक्स के बीच में नगर निगम के द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य को कुछ लोगों के द्वारा दबंगई करते हुए बंद कराने के साथ मारपीट की गई जिसकी शिकायत लेकर माधवनगर थाने पहुचे मजदूरों नें आरोप लगाया है की माधव नगर पुलिस के द्वारा उनकी शिकायत दर्ज नही की जा रही थी, जिसकी जानकारी मुड़वारा विधायक संदीप जयसवाल को दी गई , विधायक नें मामलें में हस्तक्षेप किया जिसके बाद मजदूरों की शिकायत के आधार पर आरोपियों के विरुद्ध अपराध दर्ज कर मामलें को जाँच में लिया गया ॥ इस संबंद्ध में प्राप्त जानकारी के अनुसार माधव नगर शुभ सिटी के पास नगर निगम के द्वारा निर्माण कार्य ठेकेदार द्वारा कराया जा रहा था जिसकी देखरेख के लिए ठेकेदार द्वारा सचिन चामलाटे के द्वारा सुपरबाईसर विशाल चामलाटे को रखा गया था, शनिवार को भी
सीसी सड़क निर्माण कार्य विशाल चामलाटे सहित करीब 25 से 30 श्रमिक कार्य में लगे हुए थे इसी दौरान यहां चार से पांच युवक जिसमें सुनील यादव सचिन यादव व अन्य पहुंचे और विशाल के साथ रेत की मांग करते हुए काम बंद कराने और मारपीट करने लगे और यहां कार्य कर रहे श्रमिकों से में महिलाओं के साथ भी दुर्व्यवहार किया .मारपीट करने वालों के द्वारा विशाल चामलाटे के 5 हजार रूपए भी छीनने का आरोप भी लगाया है।

मारपीट के बाद सभी आरोपी फरार हो गए । घटना के बाद सुपरवाइजर मजदूरों के साथ माधवनगर थाने पहुंचे पुलिस को पूरे घटना की जानकारी दी लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की पुलिस का अपना ही तर्क था कि रुपए छीने नहीं बल्कि गिर गए हैं इस पूरे मामले की जानकारी जब मुड़वारा विधायक संदीप जायसवाल को तब वह थाने पहुंचे और थाने की कार्यप्रणाली पर उन्होंने सवाल खड़े कर दिए इस दौरान माधव नगर थाना प्रभारी विजय विश्वकर्मा भी मौके पर ही मौजूद थे विधायक के पहुंचने के बाद श्रमिकों का सुपरवाइजर के साथ हुई घटना की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई विधायक संदीप जायसवाल का कहना था कि पुलिस पीड़ित की शिकायत दर्ज करने में आनाकानी नहीं कर सकती घटना स्थल की जांच के बाद माधव नगर थाना प्रभारी ने इस घटना की शिकायत दर्ज कर ली है की आरोपी द्वारा मारपीट की गई है उस पर पहले से भी मामले दर्ज हैं इस मामले को लेकर विधायक नाराज नजर आए और उनकी इस बात को लेकर माधव नगर थाना प्रभारी से फोन पर व आमने सामने बहस भी हुई।