निर्माण एजेंसियों और संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध होगी कार्यवाही

Scn news india

मनोहर

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि स्वास्थ्य विभाग के अस्पताल और अन्य निर्माण कार्यों को तय समय पर पूरा नहीं करने वाली निर्माण एजेंसियों और संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाए। निर्माण कार्य समय पर पूरा नहीं होने से उनका लाभ नागरिकों को नहीं मिल पाता है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी आज मंत्रालय में विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि ऐसे अनेक कार्य हैं, जो तय समय-सीमा में पूरे नहीं हुए हैं। उन्होंने निर्माण कार्यों में देरी पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि निर्माण एजेंसी और निर्माण कार्य से सीधे जुड़े अधिकारियों के कार्यों की मासिक समीक्षा की जाए। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि उन्हें जिले और एजेंसी वार निर्माण कार्यों की अद्यतन प्रगति से अवगत कराया जाए। अपेक्षित प्रगति नहीं आने पर संबंधितों के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

अवगत कराया गया कि लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के 1810 निर्माण कार्य प्रचलन में हैं। इनमें 93 जिला चिकित्सालय, 180 सिविल अस्पताल, 272 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, 166 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और 698 उप स्वास्थ्य केन्द्र सहित अन्य प्रशिक्षण और आवासीय भवन शामिल हैं। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. सुदाम खाड़े, एमडी एनएचएम सुश्री प्रियंका दास, संचालक स्वास्थ्य श्री अनुराग चौधरी सहित स्वास्थ्य विभाग और निर्माण एजेंसियों के अधिकारी उपस्थित थे।