आवास बनाने के कार्य में न हो प्रक्रियात्मक विलंब – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Scn news india

मनोहर

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सुबह मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा पन्ना जिले में संचालित जन-कल्याणकारी योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने कलेक्टर पन्ना से योजनाओं के क्रियान्वयन के स्तर की जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास और अन्य हितग्राहीमूलक योजनाओं के क्रियान्वयन में प्रक्रियात्मक विलम्ब नहीं होना चाहिए। वीसी में जल संसाधन राज्य मंत्री और पन्ना जिले के प्रभारी श्री रामकिशोर कांवरे, खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, कमिश्नर सागर सहित वरिष्ठ अधिकारी भी वर्चुअली शामिल हुए। अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारी भी वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़े।

प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन की गति बढ़ाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पन्ना जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना में बन रहे आवास गृह के कार्य की समीक्षा कर कहा कि योजना के क्रियान्वयन में प्रक्रियागत विलम्ब नहीं होना चाहिए। यदि जियो टेगिंग और मेपिंग जैसे कार्यों में दो-तीन माह लगाए जाएंगे तो हितग्राही को विलम्ब से योजना का लाभ मिलेगा। कलेक्टर पन्ना श्री संजय मिश्र ने बताया कि जिले में योजना के निर्धारित लक्ष्य में 83 प्रतिशत आवास बन चुके हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वीकृत आवास शीघ्र पूर्ण करने और प्रत्येक माह योजना की समीक्षा के निर्देश दिए। योजना में किसी भी स्तर पर लापरवाही और भ्रष्टाचार को सहन नहीं किया जाएगा।

रोजगार के अवसर बढ़ाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर पन्ना से रोजगार दिवस पर लाभान्वित हितग्राहियों की जानकारी प्राप्त की। इसके अनुसार रोजगार मेले में 11 हजार 201 हितग्राही लाभान्वित हुए हैं। पूर्व में 2400 लोगों को रोजगार दिया गया। मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, पीएम स्वनिधि योजना, मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना से रोजगार देने का कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्ट्रीट वेंडर्स के कल्याण की योजना को फ्लेगशिप योजना बताते हुए कहा कि बैंकों से गरीबों को सहायता पहुँचाने वाली इस योजना में यदि कोई अड़चन हो तो कलेक्टर अवगत करवाएँ। इसका उच्च स्तर पर समाधान किया जाएगा। हितग्राहियों को जागरूक करने के लिए उन्हें योजना की ऋण राशि लौटाने पर दोगुनी राशि मिलने के प्रावधान से अवगत करवाएँ। हितग्राहियों से संवाद होगा, हम उन्हें शिक्षित करेंगे तो ज्यादा संख्या में लोग लाभान्वित होंगे।

“एक जिला-एक उत्पाद” में आँवला के उत्पादों का करें प्रचार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पन्ना जिले में “एक जिला-एक उत्पाद” के लिए चयनित आँवला उत्पाद के भिन्न-भिन्न उत्पादों के प्रचार और विक्रय का कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने पन्ना टाइगर रिजर्व में आने वाले पर्यटकों के लिए स्टॉल प्रारंभ करने और आजीविका मार्ट के साथ ही अमेजन और विभिन्न विक्रय एजेंसियों से आँवला कैंडी, अचार, मुरब्बा और अचार सुपारी के विक्रय के लिए लाभकारी प्रबंध करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने बताया कि वन विभाग के सहयोग से जिले में आँवला उत्पादन का क्षेत्र विस्तार, भण्डारण और प्रोसेसिंग के कार्य पर ध्यान दिया जा रहा है।

  आयुष्मान कार्ड बने हैं उपचार में बड़ा सहारा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पन्ना जिले में आयुष्मान कार्ड वितरण की जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर ने बताया कि 7 लाख 72 हजार कार्ड बनाने के लक्ष्य के मुकाबले 4 लाख से अधिक कार्ड बनाए जा चुके हैं। प्रतिदिन लगभग 2 हजार कार्ड बन रहे हैं। करीब 19 हजार हितग्राहियों को 16 करोड़ रूपये की राशि की उपचार सुविधा प्राप्त हो चुकी है। कमिश्नर सागर श्री मुकेश शुक्ला ने बताया कि आयुष्मान कार्ड मिलने से हितग्राहियों को इलाज में बड़ा सहारा मिला है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिक से अधिक लोगों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।

आँगनवाड़ियों को बनाएँ सुविधा संपन्न, पौष्टिक पाउडर वितरण का नवाचार सराहनीय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने एडाप्ट-एन आँगनवाड़ी की प्रगति की जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर ने बताया कि आँगनवाड़ी केन्द्रों के लिए खिलौने, फर्नीचर और अन्य सामग्री प्राप्त करने के कार्य में जन-सहयोग मिल रहा है। नवाचार के तौर पर बच्चों को दूध के साथ मॉर्निंग मोर्विटा पौष्टिक पाउडर के वितरण से स्वास्थ्य और पोषण में सुधार परिलक्षित हुआ है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस नवाचार की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह अच्छी और अनुकरणीय पहल है। जिन लोगों ने आँगनवाड़ी गोद ली है वे माह में कम से कम एक बार आँगनवाड़ी केन्द्र जाकर व्यवस्थाएँ अवश्य देखें।

सीएम राइज विद्यालयों का जन-प्रतिनिधि-अधिकारी निरीक्षण करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पन्ना जिले में 6 सीएम राइज स्कूल प्रारंभ किए गए हैं। व्यवस्थाएँ देखने के लिए जन-प्रतिनिधि और अधिकारी समय-समय पर इनका निरीक्षण करें। बच्चे उत्साहित हैं और पालक भी जागरूक हैं। हम सभी सहयोगी बन कर विद्यालयों को एक उदाहरण के रूप में सामने लाने में भूमिका निभाएँ।

कानून-व्यवस्था के मामले में सजगता बनी रहे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि चिन्हित अपराधों में लिप्त तत्वों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही हो। उत्तरप्रदेश की सीमा से आकर अपराध करने वाले अपराधियों पर नजर रखते हुए नियंत्रण की कार्यवाही हो। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गांजा तस्करी में लिप्त एक गैंग उड़ीसा और पश्चिम बंगाल से पकड़ा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अवैध शराब या नशे के कारोबार से जुड़े लोगों को कुचलने में देर न करें।

मुख्यमंत्री भू-अधिकार आवास योजना

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पन्ना जिले में भू-माफिया से खाली कराई गई जमीन की भी जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर ने बताया कि भू-माफिया से रिक्त करीब 17 करोड़ रूपये मूल्य की भूमि के उपयोग की योजना बनाई गई है। जिले में कुल 158 प्रकरणों में कार्यवाही की गई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री भू-अधिकार आवास योजना में ऐसे परिवारों को जमीन का टुकड़ा जरूर मिलना चाहिए, जो बड़ा परिवार होने से उचित रहवास की समस्या से परेशान हैं।

अन्य योजनाओं का भी लिया फीडबेक

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में जल जीवन मिशन के कार्यों, राशन वितरण, संबल योजना, स्प्रिंकलर से सिंचाई सुविधा, किसान-कल्याण की अन्य योजनाओं का फीडबेक प्राप्त कर इन योजनाओं की निरंतर मॉनिटरिंग के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने आमजन के लिए सर्वाधिक उपयोगी, लोकप्रिय और संतुष्टि प्रदान करने वाली योजना और जिस योजना के क्रियान्वयन में दिक्कतें अनुभव की जा रही, उनकी जानकारी भी कमिश्नर सागर और कलेक्टर पन्ना से प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों के निराकरण की जानकारी भी प्राप्त की।