MP Weather: 26 अगस्त को एक्टिव होगा नया सिस्टम, इन संभागों में तेज बारिश की चेतावनी, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

Scn news india

दो दिन बाद 26 अगस्त को बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनेगा, जिसके प्रभाव से एक बार फिर 5 दिन तक बारिश का दौर चलेगा।

भोपाल। मध्य प्रदेश में एक बार फिर झमाझम बारिश का दौर शुरू होने वाला है। 25 अगस्त से एक बार फिर मानसून के सक्रिय होने के संकेत है और 26 अगस्त को बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनेगा। एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज बुधवार 24 अगस्त 2022 को सभी संभागों में बारिश की चेतावनी जारी की है। चक्रवात के असर से 25 अगस्त गुरुवार से पूर्वी मप्र के रीवा, जबलपुर, शहडोल संभागों के जिलों में एक बार फिर बारिश होने का सिलसिला शुरू हो सकता है।

एमपी मौसम विभाग के अनुसार, मप्र में सक्रिय रहा अवदाब का क्षेत्र कमजोर पड़कर वर्तमान में कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होकर दक्षिण-पूर्वी राजस्थान पर बना हुआ है। मानसून ट्रफ इसी मौसम प्रणाली से कोटा, भोपाल, छत्तीसगढ़ से होकर बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। उधर, उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी में हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बन गया है। इस वेदर सिस्टम के असर से 25 अगस्त गुरुवार से पूर्वी मप्र के रीवा, जबलपुर, शहडोल संभागों के जिलों में एक बार फिर बारिश होने का सिलसिला शुरू हो सकता है।

एमपी मौसम विभाग ने आज बुधवार 24 अगस्त को सभी संभागों में गरज चमक के साथ बारिश और बिजली गिरने चमकने की संभावना जताई गई है। उज्जैन संभाग के अनेक स्थानों पर, शहडोल, रीवा, जबलपुर, सागर, इंदौर, नर्मदापुरम और भोपाल में कुछ स्थानों पर के साथ ग्वालियर-चंबल में कही कही बारिश की संभावना है।

एमपी मौसम विभाग के अनुसार, दो दिन बाद 26 अगस्त को बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनेगा, जिसके प्रभाव से एक बार फिर 5 दिन तक बारिश का दौर चलेगा। 26 अगस्त से पूर्वी मध्यप्रदेश के हिस्सों में बारिश, 27 से 31 अगस्त के बीच भोपाल-नर्मदापुरम में तेज बारिश और इंदौर-उज्जैन संभाग में रिमझिम बारिश होगी।31 अगस्त तक ग्वालियर, भिंड, मुरैना व दतिया में भारी वर्षा के आसार नहीं है, लेकिन स्थानीय प्रभाव से गरज-चमक के साथ बूदाबांदी हो सकती है।गुना, शिवपुरी और अशोकनगर मे असर दिखेगा।

पिछले 24 घंटे का बारिश का रिकॉर्ड

इस सीजन में बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे तक 1589.2 मिलीमीटर वर्षा हुई, जो सामान्य वर्षा (735 मिमी.) की तुलना में 116 प्रतिशत अधिक है। पिछले 24 घंटों के दौरान बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे तक सतना में 14.8, रतलाम में 12, सीधी में 4.6, उज्जैन में तीन, नरसिंहपुर में तीन, धार में तीन, छिंदवाड़ा में दो, दतिया में दो, जबलपुर में दो, सागर में 1.6, ग्वालियर में 1.1, भोपाल 0.8, इंदौर में 0.4 मिलीमीटर वर्षा हुई।