वोटर आईडी कार्ड जुड़ेगा आधार से

Scn news india

मनोहर 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अनुपम राजन ने वोटर आईडी कार्ड से आधार को जोड़ने में युवा मतदाताओं की भागीदारी सुनिश्चित करने गुरूवार को वीडियो कॉफेंसिंग से चर्चा की। विश्वविद्यालयों के कुलसचिव, अतिरिक्त क्षेत्रीय संचालक, अग्रणी महाविद्यालय और सभी सरकारी महाविद्यालयों के प्राचार्य शामिल हुए।

श्री अनुपम राजन ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 1 अगस्त से वोटर आईडी कार्ड से आधार जोड़ने का अभियान चलाया जा रहा है, जिसकी शुरुआत भी हो चुकी है। अभियान में अधिक से अधिक युवा मतदाता जुड़े, इसके लिए महाविद्यालयों में अभियान चलाएँ। स्वीप गतिविधियाँ करें। विद्यार्थियों को वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कराएँ, जिससे वे अपना और अपने परिवार के सदस्यों का आसानी से आधार नंबर दर्ज कर सकें।

वोटर हेल्पलाइन एप से मिल जाएगी सारी जानकारी

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजन ने प्राचार्यों को जानकारी दी कि वोटर हेल्पलाइन एप को डाउनलोड करने के बाद युवाओं को कहीं जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसमें निर्वाचन से जुड़ी सारी जानकारी आसानी से मिल जाएगी। इस एप से युवा मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वा सकते हैं और आधार लिंक करा सकते हैं।

एक साल में चार बार मतदाता सूची में नाम जुड़वाने मिलेगा मौका

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने प्राचार्यों को बताया कि ऐसे युवा, जो 18 साल के हो गए हैं और उनका नाम मतदाता सूची में नहीं जुड़ा है, को मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए एक साल में चार मौके मिलेंगे। एक जनवरी, अप्रैल, जुलाई और अक्टूबर की पहली तारीख पर 18 साल के होने पर ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन किए जा सकेंगे।

17 साल के युवा अग्रिम तौर पर कर सकते हैं आवेदन

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजन ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने युवा मतदाताओं को एक और सहूलियत दी है। जो युवा 17 साल के हैं वे भी मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए अग्रिम तौर पर आवेदन कर सकते हैं। उनकी 18 साल की उम्र होते ही नाम आसानी से सूची में जुड़ जाएगा। उन्हें दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी।

महाविद्यालयों में गठित ईएलसी से चलाई जाए गतिविधियाँ

श्री अनुपम राजन ने महाविद्यालयों में गठित चुनावी सारक्षता क्लब से जागरूकता गतिविधियाँ संचालित कराने को कहा, जिससे युवाओं तक आसानी से भारत निर्वाचन आयोग का संदेश पहुँचाया जा सके। ईएलसी की नियमित अंतराल में बैठक हो। नोडल टीचर, कैंपस अंबेसडर बनाएं। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजेश कुमार कौल, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. के. डी. त्रिपाठी, उच्च शिक्षा विभाग से श्री धीरेंद्र शुक्ला, डॉ. आलोक निगम आदि मौजूद रहे।