4 संभागों सहित 23 जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट, 3 दिन तक अतिवृष्टि की चेतावनी, मानसून सहित तीन सिस्टम एक्टिव

Scn news india
भोपाल। मध्यप्रदेश में बारिश (MP Rains) का दौर शुरू होगा। मौसम विभाग (MP Weather Department) ने शनिवार 20 अगस्त को 4 संभाग सहित कई जिलों में भारी से अति भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग ने इंदौर और भोपाल सहित तीन अंचलों में गरज चमक के साथ बौछार पड़ने की संभावना जाहिर की है। मानसून (Mosoon) सहित इन चक्रवाती सिस्टम (cyclonic system) एक्टिव होने का असर एक बार फिर से भोपाल में नजर आएगा। शहडोल, रीवा से जबलपुर संभाग में आज भारी बारिश का अलर्ट (rainfall alert) जारी कर दिया गया है।
मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश के 10 जिलों में अभी भी सामान्य से कम बारिश रिकॉर्ड की गई है लेकिन बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम से इसे पूरा किया जा सकता है। रीवा के अलावा सतना, सीढ़ी, सिंगरौली, सागर, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, निवाड़ी, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, छिंदवाड़ा, बालाघाट, मंडला, डिंडोरी, शहडोल में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।
इन जिलों में भारी बारिश की संभावना
मौसम विभाग के मुताबिक सिवनी, मंडला, कटनी सहित सागर, छतरपुर, पन्ना, बड़वानी, बुरहानपुर, इंदौर, झाबुआ, खंडवा, खरगोन, उज्जैन, नर्मदा पुरम, हरदा, बैतूल, भोपाल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, विदिषा, ग्वालियर चंबल, दतिया, गुना, अशोकनगर में आज घर चमक के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।
राज्य में अगले 3 दिन तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। प्रशासन को अलर्ट मोड पर रखा गया है। कई नदी नाले उफान पर है। राज्य में कई जगह पर भारी बारिश की चेतावनी के बीच सूबे में व्यापक स्तर पर बारिश की संभावना बनी हुई है। इससे पहले बीते दिनों रतलाम, जबलपुर, इंदौर, उज्जैन, मलाजखंड के अलावा धार में बारिश रिकॉर्ड की गई। बंगाल की खाड़ी के ऊपर बनाने में दबाव का क्षेत्र डिप्रेशन में तब्दील होने वाला है मानसून ट्रफ डिप्रेशन के ऊपर गुजरने के साथ उड़ीसा से होकर छत्तीसगढ़ की तरफ से मध्य प्रदेश के जिले में बारिश का दौर शुरू हुआ है।
इधर भारी बारिश की संभावना के बीच मध्य प्रदेश सरकार ने प्रशासन कोनिर्देश दिए हैं। शुक्रवार रात से मौसम में बदलाव देखने को मिले हैं। लगातार बारिश की झड़ी बनी हुई है। एमपी के कुछ शहरों में हालात बद से बदतर हो गए हैं। कई बांधों के गेट खोले गए हैं। कई पुलों के ऊपर पानी आ गया है। जिससे आवागमन ठप पड़ गया है। इधर भारी बारिश की संभावना को देखते हुए मध्य प्रदेश में जिला प्रशासन NDRF टीम सजग है और स्थिति पर नियंत्रण रखे हुए हैं। भोपाल में शुक्रवार को तापमान 30 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। दक्षिण पश्चिम किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। आसमान में बादल छाए हुए हैं।