सावधान -13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

Scn news india
नए सिस्टम के साथ एक्टिव होगा मानसून, 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, जानें मौसम विभाग का पूर्वामुमान
19 अगस्त काे बंगाल की खाड़ी में एक अन्य कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है, जिसके असर से पश्चिमी मप्र और पूर्वी मप्र समेत जबलपुर, शहडाेल संभागाें के जिलाें में बारिश की गतिविधियां फिर तेज हाेने की संभावना है।
भोपाल। मध्यप्रदेश आज से मानसून के एक्टिव होने के आसार है। वर्तमान में बांग्लादेश और उसके आसपास एक गहरा कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, इसके अवदाब के क्षेत्र में परिवर्तित होकर आगे बढ़ने की संभावना है।इसके प्रभाव से शुक्रवार से रीवा, सागर, जबलपुर, शहडोल संभागों के जिलों में झमाझम बारिश का दौर शुरू होने के आसार है। एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज शुक्रवार 19 अगस्त 2022 को 4 संभागों में गरज चमक के साथ बारिश और 13 जिलों में भारी बारिश चेतावनी जारी की है।वही 6 संभागों में बिजली गिरने और चमकने का अलर्ट जारी किया है।
एमपी मौसम विभाग ने आज शुक्रवार 19 अगस्त को सभी संभागों में गरज चमक के साथ बारिश और बिजली गिरने चमकने की संभावना जताई है।वही 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। शहडोल और रीवा संभाग के साथ पन्ना, छतरपुर, सागर, कटनी, सिवनी और मंडला में भारी बारिश को देखते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है। वही शहडोल, रीवा, जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर और चंबल में बिजली गिरने और चमकने को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।प्रदेश में 22 अगस्त से भारी बारिश का दौर कम होगा, हालांकि रिमझिम का दौर जारी रहेगा।इसके बाद अंतिम सप्ताह में बारिश का तेज दौर देखने को मिल सकती है।
एमपी मौसम विभाग के अनुसार, वर्तमान में मानसून ट्रफ चुरू, दिल्ली, बरेली, हिमालय, मालदा, कोलकाता से बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। बांग्लादेश और उसके आसपास एक गहरा कम दबाव का क्षेत्र बना है। इसके शुक्रवार को उत्तरी बंगाल की खाड़ी में पहुंचकर अवदाब के क्षेत्र में बदलकर पश्चिम-उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है, जिसके असर से 21 अगस्त को पूरे प्रदेश में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है।वही एक गहरा कम दबाव का क्षेत्र अभी भी राजस्थान और उससे लगे पाकिस्तान के आसपास मौजूद है। इसके अतिरिक्त गुजरात के तट से महाराष्ट्र के तट तक अपतटीय ट्रफ भी बना हुआ है, जिसके चलते अरब सागर से भी नमी मिल रही है।
एमपी मौसम विभाग के अनुसार, 19 अगस्त काे बंगाल की खाड़ी में एक अन्य कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है, जिसके असर से पश्चिमी मप्र और पूर्वी मप्र समेत जबलपुर, शहडाेल संभागाें के जिलाें में बारिश की गतिविधियां फिर तेज हाेने की संभावना है। इसका असर इंदौर में 20 अगस्त की शाम से दिखाई देगा और 21 अगस्त के बाद इंदौर में अच्छी बारिश होगी। वही ग्वालियर पर 20 से 23 अगस्त के बीच दिखाई देगा और कहीं भारी तो कहीं मध्यम बारिश देखने को मिलेगा।
19 से 23 अगस्त तक भारी बारिश का अलर्ट
शनिवार-रविवार को इन जिलों में बारिश
शनिवार से धार, इंदौर, बड़वानी, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, डिंडोरी, कटनी, छिंदवाड़ा, जबलपुर, बालाघाट, नरसिंहपुर, मंडला, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, सागर, छतरपुर, पन्ना, बैतूल और हरदा में जमकर बारिश होगी।
रविवार से भोपाल, रायसेन, विदिशा, सीहोर, राजगढ़, धार, बड़वानी, खंडवा, खरगोन, देवास, अगर मालवा, शाजापुर, अशोकनगर, गुना, ग्वालियर, दतिया, शिवपुर, भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, छिंदवाड़ा, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, छतरपुर, सागर, टीकमगढ़, दमोह, निवाड़ी, बैतूल, हरदा और नर्मदापुरम में अच्छी बारिश होगी।