स्वतंत्रता दिवस समारोह में विधानसभा अध्यक्ष ने ध्वजारोहण करके ली परेड की सलामी

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा-देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ अमृत महोत्सव के रूप में पूरे जिले में हर्षोंल्लास से मनायी गयी। मुख्य समारोह एसएएफ पुलिस परेड मैदान में आयोजित किया गया। रिम-झिम फूहरों के बीच समारोह के मुख्य अतिथि विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने ध्वजारोहण करके परेड की सलामी ली। समारोह में मुख्य अतिथि ने मुख्यमंत्री जी के स्वतंत्रता संदेश का वाचन किया। समारोह में शस्त्र बलों ने हर्ष फायर करके राष्ट्रीय ध्वज का अभिवादन किया। समारोह में विशेष शस्त्र बल, जिला पुलिस बल एवं सैनिक स्कूल के दल के सहित 11 दलों ने बैण्ड की मधुर धुन पर आकर्षक परेड की। समारोह में इसके बाद मुख्य अतिथि विधानसभा अध्यक्ष ने तीन रंग के मनोहारी गुब्बारों को हर्ष स्वरूप मुक्त गगन में छोड़ा इसके बाद समारोह में मध्यप्रदेश गान प्रस्तुत किया गया।

समारोह में मुख्य अतिथि श्री गौतम ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों वीर शहीदो के परिजनों तथा लोकतंत्र के प्रहरियों का शाल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। समारोह में विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने देश भक्ति से ओतप्रोत तथा शासन की विकास योजनाओं को प्रदर्शित करने वाले गीतों और नृत्यों के साथ मनोहारी सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। कोरोना संकट के बाद मुख्य समारोह में पहली बार सांस्कृतिक प्रस्तुत किये गये। इसके बाद मुख्य अतिथि ने विभिन्न क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। मुख्य अतिथि श्री गौतम स्वतंत्रता दिवस पर शासकीय विद्यालय सगरा में आयोजित विशेष मध्यान्ह भोजन में शामिल हुए। मुख्य समारोह के साथ-साथ सभी विकासखण्ड मुख्यालयों, नगरीय निकायों, ग्राम पंचायतों, शासकीय एवं अशासकीय शिक्षण संस्थानों एवं कार्यालयों में भी स्वतंत्रता दिवस समारोह पूर्वक मनाया गया।

समारोह में विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने आकर्षक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। बाल भारती विद्यालय ने देश भक्ति के गीत तथा मनोहारी नृत्य के साथ विकास योजनाओं को प्रदर्शित किया। इस प्रस्तुति में भव्य श्री राम मंदिर निर्माण को प्रदर्शित किया गया। सेंट्रल एकेडमी द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रम में वीरों को नमन करने जनजाति गौरव, प्रदेश की उपलब्धियों तथा कोरोना संकट काल में उत्कृष्ट कार्य को प्रदर्शित किया गया। शासकीय पीके कन्या उमावि ने आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में बेटी बचाओ अभियान तथा वीरों के बलिदान को प्रदर्शित किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की अंतिम प्रस्तुति ज्योति स्कूल द्वारा दी गयी। इसमें हर घर तिरंगा अभियान, डिजिटल इंडिया तथा सैनिकों की विजयगाथा को प्रस्तुत किया गया।

समारोह का समापन पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। समारोह में आयोजित शस्त्र परेड में एसएएफ नवीं बटालियन को प्रथम स्थान, जिला पुलिस बल को दूसरा स्थान तथा केन्द्रीय जेल को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। बिना शस्त्र के परेड में स्काउड गाइड को प्रथम स्थान तथा जूनियर रेडक्रास दल को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ। सैनिक स्कूल द्वारा प्रस्तुत परेड में थल सैनिकों को प्रथम, जल सैनिकों को द्वितीय तथा वायु सैनिकों को तीसरा स्थान मिला। शिक्षा विभाग की ओर से शामिल दलों में एनसीसी सीनियर कन्या जीडीजी के दल को प्रथम तथा एनसीसी सीनियर वर्ग टीआरएस कालेज को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में सेंट्रल एकेडमी को प्रथम, बाल भारती विद्यालय को दूसरा, ज्योति स्कूल को तीसरा तथा सांत्वना पुरस्कार पीके कन्या स्कूल को प्राप्त हुआ।

समारोह में सांसद जनार्दन मिश्र, महापौर अजय मिश्रा बाबा, डॉ. अजय सिंह, राजेश पाण्डेय,राहुल गौतम, पूर्व महापौर श्रीमती ममता गुप्ता, कमिश्नर अनिल सुचारी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक केपी व्यंकटेश्वर राव, कलेक्टर मनोज पुष्प, डीआईजी मिथिलेश शुक्ला, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, अपर कलेक्टर शैलेन्द्र सिंह, जनप्रतिनिधिगण, वीर शहीदों के परिजन, पार्षदगण, गणमान्य नागरिक तथा बड़ी संख्या में आमजन, विद्यार्थी तथा पत्रकार उपस्थित रहे।