उजड़ते शहर को बचाने के लिए युवा संघर्ष मंच ने सारनी बचाओ तिरंगा यात्रा निकाली

Scn news india
ब्यूरो रिपोर्ट
सारनी। युवा संघर्ष मंच ने सारनी बचाओ अभियान के अंतर्गत शुक्रवार को तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया। यह यात्रा शॉपिंग सेंटर से जय स्तंभ चौक तक निकाली गई। इस दौरान देशभक्ति गीत, भारत माता की जय, वंदे मातरम् के नारे लगाते हुए पहुंची। तिरंगा यात्रा में शामिल हुए लोगों ने एक चिट्ठी सीएम के नाम पोस्टकार्ड अभियान के अंतर्गत लोगों से उजड़ते सारनी को बचाने के लिए पोस्टकार्ड लिखवाए।
इस मौके पर यात्रा में शामिल हुए। गायत्री परिवार से गुलाबराव पांसे ने कहा कि हम लोग हर घर तिरंगा फहराने के लिए संदेश दे रहे है। इसी तर्ज पर सारनी शहर को बचाना है तो घर घर से निकलना होगा तब ही शहर को बचाया जा सकता है। क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की निष्क्रियता से यह क्षेत्र पूरी तरह से उजड़ गया है। इस ओर किसी भी जनप्रतिनिधि का ध्यान नहीं जा रहा है। जबकि मुख्यमंत्री ने सारनी में 660 मेगावाट की सुपरक्रिटिकल यूनिट लगाने की घोषणा 2018 में की थी। इसके बाद भी आज तक यूनिट नहीं लग पाई है। इसी के चलते क्षेत्र के लोग में नाराजगी का माहौल व्याप्त है। इसके बावजूद भी लोगों द्वारा सारनी बचाओ तिरंगा यात्रा निकालकर लोगों ने सकारात्मक संदेश दिया है। अभी हम लोगों को शहर बचाने के लिए भारी संघर्ष करने की आवश्यकता है। वही आम आदमी पार्टी ने तिरंगा यात्रा का स्वागत पुष्प वर्षा कर किया। इस मौके पर नंदा थमके, प्रमिला पांसे, कमला कावड़कर, प्रमिला देशमुख, मनीष कहार, चंद्रमणि सोनी, राकेश सोनी, श्याम सोनी बुद्ध विहार समिति, गायत्री परिवार, उत्कल सोनी उत्थान समिति, समाजिक व धार्मिक संगठनों ने तिरंगा यात्रा में भरपूर सहयोग किया।