डाक कर्मचारियों की एक दिवसीय हड़ताल से हुआ कामकाज प्रभावित

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट

बैतूल – प्रधान डाकघर की कर्मचारी यूनियन नेशनल फेडरेशन ऑफ पोस्टल एंप्लॉई महासंघ के आह्वान पर एनएफपीसी यू के बैनर तले अखिल भारतीय डाक कर्मचारी ग्रुप सी पोस्टमैन एमटीएस एवं ग्रामीण डाक संघ के द्वारा शासकीय विभागों में नियमितीकरण और निजी करण तथा न्यू पेंशन स्कीम जैसे अन्य सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों के विरोध में लंबित 20 सूत्रीय मांगों को लेकर आज फिर मांगो की पूर्ति कराने हेतु एक दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया गया।

जिसने आज प्रधान डाकघर , कोठी बाजार एवम गंज तीनों पोस्ट ऑफिस में कामकाज पूर्णतः ठप्प रहा । वही जिले के सभी डाकघर बंद रहे। बता दे की रक्षाबंधन जैसे त्यौहार से पूर्व हड़ताल से आम जनजीवन खासा प्रभावित हुआ। आज भी लोग पत्राचार हेतु डाकघर की सुविधा पर ही निर्भर है। कई भाई सैकड़ो किलोमीटर दूर रहने वाली अपनी बहनों की राखी की प्रतीक्षा रत रहते है। वही आरडी एवं अन्य कार्य के भी प्रभावित होने से विभाग का भी नुकसान हुआ है।

इधर कर्मचारी  संगठन का कहना है कि सरकार द्वारा नई पेंशन योजना वापस ली जावे एवं पुरानी पेंशन योजना लागू की जावे। रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती की जावे। निजीकरण बंद किया जावे। कर्मचारियों पर जारी दमनकारी नितियाँ बंद की जावे। टार्गेट के नाम पर कर्मचारियों का दमन बंद किया जावे। 5 दिन का सप्ताह किया जावे।