मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं आठनेर की जनपद पंचायत अध्यक्ष बनूगी- कु.रोशनी इवने

Scn news india


आठनेर से भरत साहू की रिपोर्ट
बैतूल- कौन कब किस मुकाम पर पहुंचेगा है यह आने वाला वक्त ही बताता है हम बात कर रहे हैं जनपद पंचायत आठनेर की नवनिर्वाचित अध्यक्ष कुमारी रोशनी इवने की। रोशनी इवने का जन्म ब्लाक के ग्राम अम्बाडा में एक आदिवासी गरिब परिवार में सन् 15 फरवरी 2000 को हुआ कुमारी रोशनी इवने का जीवन काफी संघर्ष शील रहा कु. रोशनी इवने ने बताया कि परिवार कि आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण उनके दो भाई और एक बड़ी बहन शिक्षा नहीं ले पाई। उसके जन्म के दो वर्ष में पिता गेंदसिग का देहांत हो गया था माता श्रीमती गीता इवने पर परिवार का बोझ आ गया परन्तु उसने हिम्मत नहीं हारी और हमारे जीवन को संवारने के लिए मेरी मां कड़ी मेहनत मजदूरी के सहारे हमारा भरण-पोषण किया जिसमें मेरे दोनों बड़े भाई और बहन ने भी मां को सहयोग दिया। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण मुझे पांचवीं से प्रभातपट्टन के शासकीय कन्या छात्रावास में डाल दिया और कक्षा 12 वी तक वहीं शिक्षा ग्रहण की उसके बाद मैंने सन् 2021 में आठनेर के शासकीय महाविद्यालय से बीए फाइनल किया और वर्तमान में बैतूल से एल एल बी कर रही हूं। कुमारी रोशनी इवने की मानें तो उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था वह राजनीति में इतना बड़ा मुकाम हासिल कर पाएगी और वह आठनेर जनपद पंचायत की अध्यक्ष बनेगी।

कु. रोशनी इवने का राजनीतिक सफर
एक गरिब परिवार से ताल्लुक रखने वाली रोशनी इवने शासकीय महाविद्यालय में अध्ययनरत के दौरान छात्र नेता की गतिविधियों में भाग लेने लगी और इसी दौरान भारतीय जनता पार्टी ने सर्व प्रथम 2020 में महामारी कोविड 19 में रोशनी इवने को ब्लाक प्रभारी नियुक्त किया गया था। जिसमें कुमारी इवने का सरहानिय योगदान रहा और 2021 के भाजपा संगठन के चुनाव में संगठन ने स्वछ कार्यप्रणाली के चलते कु. रोशनी इवने को आठनेर ग्रामीण मण्डल महिला मोर्चा की अध्यक्ष नियुक्त किया। महिला मोर्चा की अध्यक्ष रहते क्षेत्र में लगातार अपनी पहचान बनाने के साथ ही रोशनी इवने ने संगठन के माध्यम से जनता के मुद्दे और विकास में योगदान देने लगी जिससे इन्होंने अपने क्षेत्र में जनता के बीच एक मजबूत पकड़ बना ली।और हाल ही में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जनपद पंचायत क्षेत्र वार्ड नं 7 से जीत हासिल कर कुमारी रोशनी इवने 22 वर्ष की उम्र में जनपद पंचायत आठनेर की अध्यक्ष चुनी गई।

मण्डल महामंत्री स्वदेश बालापुरे की रही अहम भूमिका

रोशनी इवने की मानें तो उनके राजनीति जीवन में भाजपा मण्डल महामंत्री स्वदेश बालापुरे का विशेष योगदान रहा इन्हीं की प्रेरणा से राजनीति जीवन की शुरुआत की और महिला मोर्चा की ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष बनी। श्री स्वदेश बालापुरे ने ही जनपद सदस्य चुनाव लडने की सलाह दी और पुरे टीम के साथ कड़ी मेहनत कर चुनाव में विजय दिलाई।कु.रोशनी इवने ने जनपद क्षेत्र के मतदाताओं एवं जनपद सदस्यों सहित स्वदेश बालापुरे और उनकी पुरी टीम का धन्यवाद किया। ग्राम अम्बाडा से सन् 2010 में भी श्रीमती संगीता कास्देकर जनपद पंचायत अध्यक्ष चुनी गई थी और पुनः वर्तमान में कुमारी रोशनी इवने जनपद पंचायत आठनेर की। अध्यक्ष बनी।

क्षेत्र का विकास पहली प्राथमिकता
कुमारी रोशनी इवने ने अध्यक्ष पद की शपथ ग्रहण के दौरान भावुक होकर कहा कि एक ओर क्षेत्र के मतदाताओं ने एक गरिब परिवार की बेटी को बहुमत देकर चुनाव में विजय दिलाई तो वहीं भाजपा संगठन के वरिष्ठ पुर्व सांसद हेमन्त खण्डेलवाल और जिला अध्यक्ष आदित्य बब्ला शुक्ला जी एवं आठनेर के सभी भारतीय जनता पार्टी पदाधिकारियों की अनुषंसा ने यह साबित कर दिया कि भारतीय जनता पार्टी एक सिद्धांतों की पार्टी है, मुझे अध्यक्ष बनाकर इस बात को साबित कर दिया की पार्टी में कार्य को तवज्जो दी जाती है ना की व्यक्ति विशेष को।मैं भी पार्टी के सिद्धांत पर चलकर सबका साथ सबका विकास के मुद्दों पर अमल करते हुए क्षेत्र के अंतिम व्यक्ति तक माननीय शिवराज सिंह चौहान जी की सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वकांक्षी योजना का लाभ दिलाने की कोशिश करूंगी क्षेत्र के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ूंगी।