एक साथ कई सिस्टम एक्टिव, 19 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

Scn news india
चंबल संभाग के जिलों के साथ शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, सीहोर, नर्मदापुरम, खरगोन,शाजापुर, आगर, अनूपपुर, डिंडौरी, कटनी, जबलपुर, मंडला, बालाघाट, सागर और दमोह में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
भोपाल। बंगाल की खाड़ी में 7 अगस्त को कम दबाव का क्षेत्र विकसित हो रहा है। इससे अगले 48 घंटों में ग्वालियर समेत प्रदेशभर में अच्छी बारिश होने की संभावना है। एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज रविवार 7 अगस्त 2022 को 19 जिलों में भारी बारिश और सभी संभागों में हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी जारी की है। वही 5 संभागों में बिजली गिरने और चमकने का भी येलो अलर्ट जारी किया गया है।
एमपी मौसम विभाग के अनुसार, आज रविवार 7 अगस्त सभी संभागों में कहीं कहीं या अनके स्थानों पर गरज चमक के साथ भारी से मध्यम बारिश की संभावना है। चंबल संभाग के जिलों के साथ शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, सीहोर, नर्मदापुरम, खरगोन,शाजापुर, आगर, अनूपपुर, डिंडौरी, कटनी, जबलपुर, मंडला, बालाघाट, सागर और दमोह में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। चंबल ग्वालियर संभागों में अधिकांश, शहडोल और जबलपुर में अनके स्थानों पर रीवा, नर्मदापुरम,भोपाल, इंदौर, उज्जैन और चंबल संभाग कुछ कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
एमपी मौसम विभाग के अनुसार, इसके अलावा जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर और सागर जिलों में बिजली गिरने और चमकने का येलो अलर्ट जारी किया गया है। कई सिस्टम एक्टिव होने से रविवार काे भाेपाल, जबलपुर, नर्मदापुरम, इंदौर, उज्जैन संभागाें के जिलाें में रुक-रुककर बारिश हाेने का दौर जारी रहेगा।18 अगस्त तक प्रदेशभर में पानी गिरता रहेगा। 19 से 25 अगस्त तक ग्वालियर-चंबल, बुंदेलखंड, बघेलखंड, महाकौशल और नर्मदापुरम में रिमझिम होती रहेगी। रक्षाबंधन के दिन यानी 11 अगस्त को भोपाल में जोरदार बारिश होने के आसार है।
मौसम विभाग के अनुसार, वर्तमान में पाकिस्तान के मध्य में एक पश्चिमी विक्षाेभ हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में बना हुआ है। मानसून ट्रफ जेसलमेर, काेटा, सागर, पेंड्रा राेड, बालासाेर से हाेकर बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। आंध्र प्रदेश के तट पर हवा के ऊपरी भाग में एक शक्तिशाली चक्रवात बना हुआ है। मध्य राजस्थान पर भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। दक्षिणी महाराष्ट्र से उत्तरी केरल तक अपतटीय ट्रफ बना हुआ है। आंध्रा के तट पर बने चक्रवात के आज रविवार काे कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित हाेने की संभावना है।
पिछले 24 घंटे का बारिश का रिकॉर्ड
शनिवार काे सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक ग्वालियर में 54.6, मंडला में छह, इंदौर में 5.2, बैतूल में पांच, सागर में एक, दमाेह में एक, सतना में 0.8, भाेपाल में 0.4 मिलीमीटर वर्षा हुई