मंडला बिछिया भ्रष्ट रोजगार सहायक की खुली पोल

Scn news india

ओमकार पटेल 
बिछिया जनपद क्षेत्र की ग्राम पंचायत ककैया की जनता बीते 8 वर्षों में रोजगार सहायक नवनीत झारिया के खिलाफ हल्ला बोल दिया ग्रामीण एकजुट होकर नवनिर्वाचित सरपंच, उपसरपंच के सामने रोजगार सहायक का काला चिट्ठा आखिरकार खोल ही दिया, ग्रामीणों के अनुसार सरपंच दिनेश कोरवे के पीठ पीछे रोजगार सहायक नवनीत झारिया नवीन पांडे जो श्रमिक कार्ड बनाने के लिए गरीब मजदूर से लिए 12 सो रुपए पीएम आवास के लिए किसी से 5000 किसी से 10000 मनरेगा, खेत तालाब, कूप निर्माण एवं कुछ पीएम आवास बने ही नहीं और पैसे निकल गए।

आखिरकार इन 8 वर्षों में लगातार तीन सचिव और रोजगार सहायक ने केवल शासन के पैसे की जमकर खेली होली ,सी सी सड़क भी पूरी नहीं बार-बार रोजगार सहायक नवनीत झारिया की शिकायत जनपद पंचायत बिछिया एवं 181 पर होती रही लेकिन आज तक प्रशासन स्तर पर ऐसे भ्रष्ट रोजगार सहायक के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्यवाही नहीं हुई इससे लगता है उसके ऊपर प्रशासनिक आकाओं का हाथ निश्चित है क्योंकि आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले में जन जन के लिए शासन प्रशासन ने सभी सुविधा मुक्त मुहैया कराई है लेकिन उसका पूरा लाभ एकमात्र रोजगार सहायक नवनीत झारिया ने हि लिया हर योजना के बदले गरीब से मात्र पैसा, इस तरह हो रहा गरीबों का शोषण लेकिन प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी मोन।