सरहद जाने से पहले,बबला करेंगे राष्ट्र रक्षा मिशन का अभिनंदन विश्वकर्मा मंदिर से होगी सरहदी दल की विदाई

Scn news india


ब्यूरो रिपोर्ट
बैतूल। देश की अंतराष्ट्रीय सरहदों पर तैनात सैनिकों के साथ रक्षाबंधन का पर्व मनाने के लिए संकल्पित बैतूल सांस्कृतिक सेवा समिति के राष्ट्र रक्षा मिशन-2022 को विश्वकर्मा मंदिर से 7 अगस्त को विदाई दी जाएगी। प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी संस्था के संरक्षक एवं भाजपा जिलाअध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला द्वारा दल की हौसलाअफजाई के लिए अभिनंदन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

अपरान्ह तीन बजे से आयोजित कार्यक्रम में पूर्व सांसद एवं संस्था संरक्षक हेमंत खण्डेलवाल , जनप्रतिनिधि एवं प्रशासनिक अधिकारी प्रमुख रुप से मौÓाूद रहेंगे। विश्वकर्मा बढ़ई समाज समिति प्रमुख बलवीर अध्यक्ष कांता प्रसाद मालवीय, कार्यकारी अध्यक्ष गणेश प्रसाद मालवी ने बताया कि विश्वकर्मा मंदिर से राष्ट्र रक्षा मिशन का 2& वां पड़ाव प्रारंभ होगा जो गर्व की बात है। इस अवसर पर विश्वकर्मा बढ़ई समाज समिति महिला मंडल, कुंबी समाज महिला संगठन, आरडी पब्लिक स्कूल बैतूल, लायंस क्लब बैतूल, गायत्री परिवार बैतूल, दृष्टि एजुकेशन कोचिंग सेंटर, पारमिता जन सेवा समिति बैतूल, ग्लोबल पब्लिक स्कूल, पूर्व सैनिक संघ, समाजसेवी धीरज हिराणी, धीरज बोथरा, डॉ विनय सिंह चौहान सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा राखियां, रुमाल एवं सैनिकों के लिए मिठाई भेंट की जाएगी।


बार्डर से पहले बूस्टर
समिति का दल 8 अगस्त को भारत-चीन-भूटान-म्यानमार-नेपाल बार्डर पर स्थित सिक्किम प्रांत के लिंगडम के लिए रवाना होगा। इसके पहले 7 अगस्त को दल को विदाई दी जाएगी। समिति के सदस्यों द्वारा बार्डर जाने से पहले बूस्टर डोज लगाकर जिले वासियों को भी यह संदेश दिया है कि पहले बूस्टर फिर बार्डर। इस वर्ष संस्था के दल में सिहोर से भी दो बहने शामिल हो रही है जिनमें मधु परमार पटवारी है तो सीमा परमार शिक्षिका। इसके अलावा आंध्रप्रदेश के करनूल से भी 6 सदस्य राष्ट्र रक्षा मिशन-2022 में सहभागी बनेंगे।

Live Web           TV