कटनी नगर निगम में निर्दलीय महापौर प्रत्याशी प्रीति सूरी ने 5287 मतों से विजय श्री हासिल हुई है

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

कटनी ॥ कटनी में महापौर के वोटों की गणना पूरी हो चुकी है, जिसमें कटनी नगर निगम में निर्दलीय महापौर प्रत्याशी प्रीति सूरी की जीत हुई है। 27 पार्षद जीतने के बाद भी बीजेपी का महापौर नहीं बन सका। इसके पहले कटनी पिछले 10 सालों से भाजपा का कब्जा था। वहीं यहां के 45 वार्डों में से 27 पर बीजेपी ने बढ़त बनाई हुई थी जिनके अधिकांश परिणाम घोषित हो चुके । कटनी नगर निगम महापौर पद पर अंततः निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति संजीव सूरी ने फतेह हासिल कर ली है। उन्हें 8 राउंड में 5287 मतों से विजय श्री हासिल हुई है। चुनाव परिणाम की गिनती शुरू होते साथ ही प्रीति संजीव सूरी बढ़त बनाई हुई थी, आठ राउंड मे एक बार भी ऐसा कोई मौका नहीं आया जब उन्हें निकटतम प्रत्याशी से मात खानी पडी हो। पहले राउंड से मिली सफ़लता ने उन्हें महापौर बना दिया। प्रीति सूरी को कुल 45648 वोट मिले है जबकि भाजपा प्रत्याशी ज्योति दिक्षित को 40361 मत हासिल हुए है।

इस पूरे मुकाबले मे कांग्रेस की प्रत्याशी श्रेया खण्डेलवाल तीसरे स्थान पर रहीं, उन्हें 22067 वोट ही मिले है।महापौर चुनाव भाजपा हार गई लेकिन निगम परिषद में उसका बहुमत आ गया। नगर निगम में बीजेपी के कुल 27 प्रत्याशी जीत कर आये, कांग्रेस को 15 पार्षद ने विजय दिलाई। नगरीय निकाय निर्वाचन के दूसरे चरण में 13 जुलाई को जिले के नगर निगम कटनी और नगर परिषद बरही में हुए मतदान की मतगणना 20 जुलाई को सुबह नौ बजे से शुरू होने के बाद दोपहर तक मतगणना का काम पूरा कर लिया गया और आठ राउंड की गणना में निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति सूरी विजयी हुई हैं। वहीं 45 वार्डों में 26 में भाजपा, 14 में कांग्रेस और पांच में अन्य ने जीत हासिल की है। आठवें राउंड में ज्योति दीक्षित को 40361 मत और प्रीति संजीव सूरी को 45648 को मिले हैं। इस तरह से प्रीति 5287 मतों से जीत गई हैं। कटनी नगर निगम क्षेत्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के संसदीय क्षेत्र में आता है, इस लिहाज से कटनी नगर निगम महापौर पद पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी हुई थी। अब महापौर की दौड़ में बीजेपी की हार से पार्टी को झटका लगा है।